रांची, जेएनएन। Jharkhand Assembly Election 2019 भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से स्पष्ट रूप से कहा है कि टूट-फूट और नाराजगी जैसी बातें नहीं होनी चाहिए। सबसे पहले पार्टी को परिणाम चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि भाजपा के सभी कार्यकर्ता शिकायतों को भूलकर भाजपा प्रत्याशियों को जिताने में जुटें। गुरुवार को चुनावी जनसभा के बाद पदाधिकारियों और कोर ग्रुप के साथ बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि पहले संगठन, फिर अपने बारे में सोचें।

टिकट बंटवारे को लेकर नाराजगी की बात हो, या फिर व्यक्तिगत लाभ को लेकर पार्टी के प्रति कोई भी असंतोष। सभी मुद्दों पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और देश के गृहमंत्री अमित शाह ने सीधे संवाद करते हुए भाजपा नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं को संगठन धर्म का पाठ पढ़ाया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री वीएल संतोष, मुख्यमंत्री रघुवर दास सहित अन्य नेताओं ने चुनाव में जीत को लेकर कार्यकर्ताओं और नेताओं से दो टूक शब्दों में कहा कि पार्टी जीत के लिए खुलकर काम करें।

नेताओं ने कहा कि सबसे पहले संगठन है, उसके बाद अपने बारे में सोचें। लोहरदगा के शीला अग्रवाल सरस्वती विद्या मंदिर में आयोजित पदाधिकारियों और कोर ग्रुप के साथ बैठक में अमित शाह ने करीब 40 मिनट तक प्रत्याशियों के जीत का मंत्र दिया।

इस बैठक में भाजपा के चुनाव प्रभारी ओम प्रकाश माथुर, सह प्रभारी राम विचार नेताम, संगठन मंत्री धर्मपाल सिंह, मुख्यमंत्री रघुवर दास सहित अन्य नेताओं ने लोहरदगा के भाजपा प्रत्याशी सुखदेव भगत, गुमला के भाजपा प्रत्याशी मिसिर कुजूर, विशुनपुर के भाजपा प्रत्याशी अशोक उरांव के साथ अन्य नेताओं से भी सीधा संवाद किया। सभी से क्षेत्र में पार्टी की स्थिति, जीत को लेकर वर्तमान स्थिति, पार्टी नेताओं की नाराजगी, भितरघात की संभावना आदि ङ्क्षबदुओं पर गहनता पूर्वक समीक्षा की।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप