धनबाद, जेएनएन। हालांकि झारखंड विधानसभा चुनाव की तारीखों की अभी घोषणा नहीं हुई है लेकिन धनबाद में भाजपा से टिकट के दावेदार रोज नए-नए करतब दिखा रहे हैं। सब दावेदार चाह रहे हैं कि धनबाद के सांसद पीएन सिंह उनके लिए पैरवी करें। वैसे सांसद के अधिवक्ता पुत्र प्रशांत सिंह भी धनबाद विधानसभा क्षेत्र से भाजपा टिकट के दावेदार हैं। वह 2014 में भी दावेदार थे लेकिन चूक गए। टिकट राज सिन्हा सिन्हा को मिला और वह विधायक चुने गए।

धनबाद के सांसद पीएन सिंह की झारखंड के दिग्गज भाजपा नेताओं में गिनती होती है। वह झारखंड प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष और कोर कमेटी के सदस्य भी रह चुके हैं। उनके संसदीय क्षेत्र धनबाद में छह विधानसभा क्षेत्र हैं-धनबाद, झरिया, सिंदरी, निरसा, बोकारो और चंदनकियारी। इन क्षेत्रों में भाजपा टिकट के दावेदार चाहते हैं कि उनके लिए सिंह पैरवी करें। हालांकि यह आसान नहीं है। धनबाद से राज सिन्हा, झरिया से संजीव सिंह, सिंदरी से फूलचंद मंडल, बोकारो से विरंची नारायाण और चंदनकियारी से अमर बाउरी भाजपा के ही विधायक हैं। किसी दूसरे के नाम की सांसद सिंह सिफारिश करते हैं तो विधायकों की नाराजगी मोल लेने का खतरा है।

सांसद को साैंपा बायोडाटाः झारखंड प्रदेश भाजयुमो के पूर्व कार्यसमिति सदस्य कमलेश मिश्र ने सोमवार की शाम सांसद पीएन सिंह से मिलकर धनबाद विधानसभा क्षेत्र से अपनी दावेदारी पेश की। उन्होंने आवेदन के साथ सांसद को अपना बायोडाटा भी साैंपा।

साैदान सिंह से मिले सांसद पुत्र प्रशांत सिंहः दूसरी तरफ सांसद के पुत्र प्रशांत सिंह भी टिकट के लिए जोर लगा रहे हैं। पेशे से अधिवक्ता सिंह भाजपा के अधिवक्ता सेल से जुड़े हैं। रांची हाई कोर्ट में वकालत करते हैं। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री सौदान सिंह मुलाकात की है। मुलाकात की एक तस्वीर सोशल मीडिया में साझा किया है। इससे धनबाद भाजपा का राजनीतिक माहाैल गर्म हो गया है।

 

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप