रांची, राज्य ब्यूरो। Assembly Election 2019 - महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने एक बार फिर सत्ता मेंं वापसी की है। वहीं, हरियाणा में वह सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। लेकिन, झारखंड में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पार्टी की इस जीत का कोई जश्न नहीं मनाया। कुछ नेताओं ने रोजमर्रा की तरह अपनी उपस्थिति अवश्य दर्ज कराई। तमाम शीर्ष नेताओं ने किसी भी तरह की टिप्पणी से परहेज किया।

हां, देर शाम प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा का बयान जरूर आया। जाहिर है कि जिन परिणाम की भाजपा ने आशा की थी, वे उससे इतर हैं। झारखंड विधानसभा चुनाव से पूर्व दो अहम राज्यों के चुनाव परिणामों ने प्रदेश भाजपा को अलर्ट मोड पर डाल दिया है। पार्टी स्तर पर दोनों राज्यों के चुनाव परिणाम आने के बाद एक बार फिर समीक्षा शुरू होने की बात कही जा रही है। इसका पदाधिकारियों को इशारों में संकेत कर दिया गया है। दोनों ही राज्यों के चुनाव परिणामों के रुझान सुबह से ही आने शुरू हो गए।

प्रदेश कार्यालय में भी तीनों ही तल्लों पर अलग-अलग चैनलों को कुछ छोटे-बड़े कार्यकर्ता निहारते देखे गए। नेताओं के चेहरे बता रहे थे कि महाराष्ट्र की जीत पर हरियाणा का चुनाव परिणाम कहीं भारी पड़ रहा था। संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह के स्तर पर संगठन की नियमित बैठकें शुरू हुईं, लेकिन दोनों राज्यों के चुनाव परिणामों पर कोई चर्चा नहीं की गई। आम तौर पर इन दिनों भाजपा कार्यालय खचाखच भरा रहता है।

लेकिन, गुरुवार को संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह के अलावा आदित्य साहू, राकेश प्रसाद, प्रतुल शाहदेव, शिवपूजन पाठक, विनय सिंह जैसे कुछ चेहरे ही नजर आए। पार्टी की ओर से जश्न मनाने का कहीं कोई निर्देश नहीं दिया गया। बताया जा रहा है कि टीवी चैनलों पर जाने वालों लोगों को भी बहस में न जाने का निर्देश दिया गया। प्रदेश स्तर से एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा कि क्या जश्न मनाया जाए। क्या दावा था, क्या परिणाम आए हैं।

जनता ने सरकार के कार्यक्रम और योजनाओं पर लगाई मुहर : गिलुवा

महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनाव परिणाम भले ही भाजपा की मंशा के अनुकूल न रहे हों, लेकिन भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने प्रत्यक्ष तौर पर इन परिणामों पर संतुष्टि जताई है। प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने देर शाम अधिकृत बयान जारी करते हुए कहा कि दोनों राज्यों की जनता ने सरकार की योजनाओं और कार्यक्रम पर अपनी मुहर लगाई है। कहा, महाराष्ट्र और हरियाणा की जनता ने विकास और देशहित को सर्वाधिक महत्व देते हुए एनडीए (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन या राजग) को दोबारा सेवा का अवसर दिया है।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस