रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Assembly Election 2019 भाजपा ने चुनाव आयोग से क्यू मैनेजमेंट की नई व्यवस्था को तत्काल रद करने की मांग की है। भाजपा का तर्क है कि इससे मतदान का प्रतिशत गिर रहा है। पार्टी ने यह भी कहा कि जिन दस विधानसभा क्षेत्रों में क्यू मैनेजमेंट सिस्टम लागू किया गया है, 2014 में भाजपा और उनके सहयोगी दलों को इनमें से नौ सीटें हासिल हुई थी। उपरोक्त दस विधानसभा क्षेत्रों में क्यू मैनेजमेंट सिस्टम लागू होने से भाजपा को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

भाजपा चुनाव आयोग संपर्क विभाग के सुधीर श्रीवास्तव ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से इस संदर्भ में लिखित शिकायत की है। इसकी प्रतिलिपि मुख्य चुनाव आयुक्त को भी भेजी गई है। भाजपा ने यह भी सुझाव दिया है कि चुनाव में नए प्रयोग तभी हों, जब मतदाताओं के बीच जागरूकता अभियान पहले से चले।

भाजपा ने कहा है कि तीन चरणों में 50 विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव हो चुके हैं, इनमें छह विधानसभा क्षेत्रों में क्यू मैनेजमेंट सिस्टम लागू था। जहां यह व्यवस्था लागू की गई थी, उनमें चाईबासा में 66.49 प्रतिशत, जमशेदपुर पूर्वी में 57.39 प्रतिशत, जमशेदपुर पश्चिमी में 53.87 प्रतिशत, हजारीबाग में 57.18 प्रतिशत, रांची में 49.10 प्रतिशत और रामगढ़ में 70.50 प्रतिशत मतदान हुआ है। इससे साफ है कि क्यू मैनेजमेंट सिस्टम लागू होने से मतदान का प्रतिशत गिर रहा है। चुनाव में उक्त सिस्टम से जनता को भारी समस्या का सामना करना पड़ा और हर बूथ पर ऊहापोह की स्थिति बनी रही। मतदाता मतदान देने की अपेक्षा अपनी पर्ची लेकर बीएलओ के पीछे-पीछे घूमते नजर आ रहे थे। भाजपा ने यह भी तर्क दिया है कि यह मतदाताओं के निजता के अधिकार का भी उल्लंघन है।

इन विधानसभा क्षेत्रों में क्यू मैनेजमेंट सिस्टम

जमशेदपुर पूर्वी, जमशेदपुर पश्चिमी, चाईबासा, रांची, हजारीबाग, रामगढ़, देवघर, गांडेय, बोकारो व झरिया।

 

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस