रांची, राज्य ब्यूरो। आखिरकार बाबूलाल मरांडी चुनाव मैदान में कूद ही गए। झारखंड विकास मोर्चा ने अपने सुप्रीमो को धनवार विधानसभा से प्रत्याशी बनाया है। इससे पूर्व तीन सूचियों में बाबूलाल का नाम बतौर प्रत्याशी दर्ज नहीं था और यह कयास लगाए जा रहे थे कि बाबूलाल विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे।

बताते चलें कि 2014 के विधानसभा चुनाव में बाबूलाल मरांडी सीपीआइ एमएल के प्रत्याशी राजकुमार यादव से परास्त हो गए थे। 2009 के चुनाव में झाविमो के निजामुद्दीन अंसारी ने यह सीट जीती थी। इससे पूर्व इस सीट पर भाजपा का कब्जा था।

झाविमो ने मंगलवार को नौ प्रत्याशियों की चौथी सूची जारी की जिसके अनुसार सुनील कुमार गुप्ता रांची, कमलेश राम कांके, अंतु तिर्की खिजरी, उमेश महतो सिल्ली, दुर्गाचरण प्रसाद बड़कागांव, मुन्ना सिंह हजारीबाग, बटेश्वर मेहता बरकट्ठा तथा रमेश हर्षधर कोडरमा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से झाविमो के प्रत्याशी होंगे। झाविमो इससे पूर्व 48 विधानसभा क्षेत्रों से प्रत्याशियों की घोषणा कर चुका है।

मंगलवार को प्रत्याशियों के नामों की घोषणा करते हुए के पार्टी के केंद्रीय उपाध्यक्ष विनोद शर्मा और पार्टी की उपाध्यक्ष आश्रिता कुजूर ने कहा कि पार्टी ने काफी ठोक बजाकर प्रत्याशियों को उतारा है। अधिकतर विस क्षेत्रों में झाविमो की स्थिति मजबूत है। आसन्न चुनाव में झाविमो का प्रदर्शन बेहतर होगा।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप