गुरुग्राम [पूनम]। Haryana Assembly Election 2019: दिल्ली से सटे गुरुग्राम में एक बुजुर्ग दंपत्ति के वोट के प्रति उत्साह देखकर रह कोई चकित रह गया। 82 वर्षीया कुसुम लता मित्तल और उनके पति एसबी मित्तल को चलने में तकलीफ थी लेकिन वे सुबह आठ बजे अपने पोलिंग बूथ ब्लू बेल्स मॉडल स्कूल स्थित बूथ संख्या 113 में पहुंच गए। कुसुम का पैर काम नहीं कर रहे थे मगर बेटे का हाथ थाम, स्टिक का सहारा लेकर वह वोट डालने पहुंच गयीं। एसबी मित्तल को चलने के साथ देखने में भी तकलीफ है। दोनों बमुश्किल चल पा रहे थे मगर लोकतंत्र के महापर्व का उत्साह कम नहीं था।

सेक्टर चार के माड़ूमल स्कूल में बूथ संख्या 115 में वोट देने आए 75 वर्षीय केके जुनेजा और उनकी 72 वर्षीया पत्पी दर्शन जुनेजा ने बहुत ही जोश से कहा कि अपने अधिकार का प्रयोग कर देश के प्रधानमंत्री और सूबे के मुख्यमंत्री के हाथ मजबूत करने निकले हैं हम। लोकतंत्र के महापर्व में ऐसे बुजुर्गो की संख्या काफी थी,जो पत्नी और अपने परिवार के साथ सुबह सात बजे अपने बूथ पर पहुंच गए थे। किसी को चलने फिरने में दिक्कत थी तो किसी को सुनने और देखने में दिक्कत थी मगर उनका उत्साह कम नहीं था।

सेक्टर चार सीनियर सेकेंड्री स्कूल में बूथ संख्या 111 में वोट डालने आए 87 वर्षीय राजकुमार गुलाटी ने जोशीले अंदाज में कहा कि मैं हर चुनाव में सुबह ही वोट देने जाता हूं। इसी बूथ में सुबह अपना वोट डालने पहुंची 85 वर्षीया अविनाश देवी ने कहा कि अबतक हर चुनाव में सुबह ही अपना वोट डालती रही हूं। स्वास्थ्य ठीक नहीं है मगर अपनी जिम्मेदारी तो बनती है।

बूथ संख्या 112 में अपने बेटे प्रशांत गौतम, बहू जागृति गौतम, पत्नी राज गौतम के साथ वोट डालने पहुंचे 76 वर्षीय मदन लाल गौतम को चलने में दिक्कत आ रही थी। घुटने में तकलीफ के कारण उन्हें पकड़कर ले जाया जा रहा था मगर वोट डालने को लेकर उत्साह कम नहीं था। उनका घुटना प्रत्यारोपित किया गया है मगर तकलीफ कम नहीं हुई बावजूद इसके सुबह परिवार सहित वोट देने पहुंचे।

सेक्टर चार सामुदायिक भवन के बूथ संख्या 110 में वोट देने आए 75 वर्षीय बुजुर्ग ईश्वर दयाल चल नहीं पा रहे थे। वोट देने के बाद वे वहीं पास में रखी एक कुर्सी पर बैठ गए। बैठ गए। सेक्टर 56 के रेल विहार स्थित बूथ में 94 वर्षीया मनोहर लाल भाटिया ने वोट दिया।

सेक्टर 15 पार्ट वन के प्राथमिक विद्यालय में अपने बेटे डा. एसके यादव और बहू के साथ सुबह सबेरे वोट डालने व्हील चेयर पर आई 90 वर्षीया जसवंती देवी ने भी लोकतंत्र के महापर्व के प्रति अपनी आस्था जताई।

ये भी पढ़ेंः कड़ी सुरक्षा के बीच मेवात में मतदान खत्म, फर्जी वोटिंग की शिकायत पर हिंसक झड़प

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस