गुरुग्राम (सत्येंद्र सिंह)। Haryana Assembly Election 2019: बादशाहपुर विधानसभा क्षेत्र में बुधवार शाम हुई चुनावी रैली में शामिल होने आए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह टिकट नहीं मिलने से नाराज चल रहे पार्टी नेताओं को एकता के सूत्र में बांध गए। रैली स्थल पर जाने से पहले उन्होंने पार्टी महासचिव अनिल जैन से जिले की चारों सीटों के बारे में फीडबैक लिया, फिर मंच से अपने भाषण से पहले उन्होंने सभी को एक होकर चलने को कहा। हालांकि बादशाहपुर क्षेत्र से विधायक व प्रदेश के कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह नहीं दिखे जिसको लेकर चर्चा भी चली मगर उनके बारे में बताया गया कि उनका कार्यक्रम मेवात में पहले से तय था।

टिकट वितरण के बाद ऐसा पहली बार देखने को मिला

टिकट वितरण के बाद ऐसा पहली बार देखने में मिला कि पार्टी की जनसभा में उम्मीदवारों के साथ-साथ वे नेता भी मंच पर मौजूद रहे जो टिकट नहीं मिलने से नाराज चल रहे थे। रिश्ते में एक दूसरे के समधी लगने वाले गुड़गांव से विधायक उमेश अग्रवाल व पार्टी उम्मीदवार सुधीर सिंगला एक साथ गुफ्तगू करते दिखे। वहीं टिकट के प्रबल दावेदार रहे हरियाणा डेयरी प्रसंघ के चेयरमैन जीएल शर्मा भी उमेश व सुधीर के साथ बातचीत करते दिखे।

नाराज नेताओं ने भी की वोट देने की अपील

इसी तरह बादशाहपुर विधानसभा क्षेत्र से भी टिकट नहीं मिलने से नाराज चल रहे कई नेता पार्टी उम्मीदवार मनीष यादव को वोट देने की अपील करते नजर आए। पटौदी विधानसभा क्षेत्र की मौजूदा विधायक बिमला चौधरी भी टिकट कटने के बाद पहली बार जोश में दिखी। हालांकि कई नेता उनका सरनेम गलत बोल गए तो वह तंज भी कसने से नहीं चूकीं।

मनो ने बना दिया था माहौल

बादशाहपुर क्षेत्र में हुई जनसभा में पार्टी उम्मीदवार मनीष यादव के लिए भाजपा के सभी नेता एकजुट हुए इसकी पटकथा मंगलवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने लिख दी थी। पटौदी में हुई जनसभा में जहां उन्होंने नाराज चल रहे नेताओं को एक मंच पर ला दिया था वहीं देर शाम न्यू कालोनी में हुई जनसभा में उन्होंने उन उम्मीदवारों को मंच पर खड़ा कर दिया जो टिकट नहीं मिलने से घर बैठ गए थे। यहीं नहीं मुख्यमंत्री की मौजूदगी में कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने से खफा हुई निगम पार्षद सीमा पाहूजा अपने समर्थकों के साथ भगवा चुन्नी में नजर आई।

जनसभा होने के बाद मुख्यमंत्री की ओर से सभी नेताओं को संदेश दे दिया गया कि वह बादशाहपुर रैली में अवश्य पहुंचें। मुख्यमंत्री खुद राव नरबीर सिंह के साथ मेवात में होने वाली रैली में शामिल होने गए थे। यह कार्यक्रम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रैली से पहले से तय था।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप