नई दिल्ली, जेएनएन। हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को प्रचार थम गया। यहां 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे और 24 अक्टूबर को मतों की गणना होगी। इसके अलावा 21 अक्टूबर को ही 17 राज्यों की 51 विधानसभा सीटों सहित समस्तीपुर (सुरक्षित) और सतारा संसदीय सीटों के उपचुनावों के लिए भी मतदान होगा।

शनिवार को प्रचार के अंतिम दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के रेवाड़ी और सिरसा में जनसभाओं को संबोधित किया जबकि गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने महाराष्ट्र में रैलियों को संबोधित किया। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने जहां नागपुर में रोड शो किया, वहीं राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ने सतारा में चुनावी रैली को संबोधित किया।

महाराष्ट्र में दो गठबंधन के बीच है मुकाबला

महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 सीटें हैं। इस बार भी मुख्य मुकाबला भाजपा- शिवसेना गठबंधन और कांग्रेस-NCP के बीच है। शिवसेना के साथ हुए गठबंधन के बाद भाजपा जहां राज्य में 150 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, वहीं शिवसेना ने 124 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं। चुनाव पूर्व हुए सर्वे में भले ही भाजपा गठबंधन की बंपर जीत दर्शाई जा रही हो, लेकिन महाराष्ट्र के चुनावों में क्षेत्रीय मुद्दों का बोलबाला रहने की उम्मीद है। सूखा और पीएमसी बैंक घोटाले जैसे मुद्दे कई सीटों पर पूरी तरह से तस्वीर बदल सकते हैं। कई क्षेत्रों में भाजपा और कांग्रेस के सामने अपना गढ़ बचाने की चुनौती है तो कहीं दूसरे के गढ़ में सेंधमारी की कोशिश की जा रही है।

हरियाणा में भाजपा को बढ़त, लेकिन वोटर बढ़ा रहे दिल की धड़कन

90 सदस्यों वाली हरियाणा विधानसभा में भले ही इस बार मुकाबला एकतरफा नजर आ रहा हो, लेकिन ज्यादातर सीटों पर भाजपा और कांग्रेस में सीधी लड़ाई के ही समीकरण बन रहे हैं। कुछ जगह हाल में अस्तित्व में आई जननायक जनता पार्टी (JJP) पूरे खेल को त्रिकोणीय बनाती दिख रही है। कुछ सीटें ऐसी भी हैं जहां अन्य दल, निर्दलीय और कांग्रेस और भाजपा के बागी अपने-अपने हिसाब से चुनाव को दिलचस्प बना रहे हैं।

यह भी पढ़ें: West Bengal: माकपा राज्य कमेटी में हुआ बड़ा फेरबदल, कई नए नेताओं को मिली जगह तो कुछ वरिष्ठ हुए बाहर

यह भी पढ़ें: महात्मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ पर पीएम मोदी के घर जुटी बॉलीवुड की बड़ी हस्तियां, देखें तस्वीरें

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप