नई दिल्ली, एजेंसी। चुनाव से पहले दिल्ली में लगातार विकास कार्यों का शिलान्यास और उद्घाटन देखा जा रहा है। इस कड़ी में आज देश के गृहमंत्री व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डीडीए द्वारा बनाए जाने वाले साइकिल ट्रैक का शिलान्यास किया। दिल्ली के तुग़लकाबाद में अमित शाह ने इसका शिलान्यास किया। इस परियोजना पर 550 करोड़ रुपये खर्च होने हैं। यह ट्रैक सिर्फ साइकिल और पैदल यात्रियों के लिए होगा।

अमित शाह ने इस दौरान संबोधन में कहा कि दिल्ली में पांच साल की जगह पांच महीने की सरकार चली।पांच साल में केजरीवाल सरकार ने कुछ नहीं किया बस पांच महीने में विज्ञापन देकर दिल्ली की जनता की आंख में धूल झोंकने का काम किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आज मैं दिल्ली के झुग्गी-झोपड़ी में रहने वालों से कहता हूं कि आप चिंता मत करिए जहां झुग्गी है वहीं मकान देने का काम नरेन्द्र मोदी जी करने वाले हैं। एक पायलट प्रोजेक्ट भी शुरू हो गया है, 20 हजार झुग्गियों को मकान देने की शुरुआत हो गई है।

इस दौरान उन्होंने केजरीवाल सरकार के खिलाफ हमलावर होते हुए कहा कि भारत विरोधी नारे लगाने वाले छात्रों को सलाखों के पीछे डाला जाना चाहिए या नहीं? लेकिन केजरीवाल (दिल्ली के सीएम) पुलिस को मुकदमा चलाने की मंजूरी नहीं दे रहे हैं।

गृह मंत्री ने इस दौरान विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि AAP और कांग्रेस, खासकर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी देश के अल्पसंख्यकों को गुमराह कर रहे हैं। सीएए के तहत किसी की नागरिकता रद नहीं की जाएगी, यह नागरिकता देने के लिए एक अधिनियम है। ये दल उन दंगों के लिए जिम्मेदार हैं, जो भड़के थे।

अमित शाह ने आगे कहा कि केजरीवाल जी आपके मन में भय है कि अगर आयुष्मान योजना दिल्ली में चालू हो गई तो दिल्ली की जनता और मोदी जी के बीच में जुड़ाव आ जाएगा। केजरीवाल जी मैं बता दूं कि आप गलत सोच रहे हो, जुड़ाव हो चुका है और दिल्ली की जनता मोदी जी के साथ है।

अमित शाह ने आगे कहा कि केजरीवाल जी आपने दिल्ली में 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगवाने को कहा था जिनकों आज भी दिल्ली की जनता ढूंढ रही है कि कहां लगे हैं।

इस दौरान अपने संबोधन में अमित शाह ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा, 'दिल्ली में AAP सरकार ने दिल्ली के गरीबों को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है।केजरीवाल जी सिर्फ अपने राजनीतिक हितों के लिए आयुष्मान भारत योजना को लागू नहीं होने दे रहे हैं। पीपीएल को अब आप केजरीवाल जी के माध्यम से देख रहे हैं, AAP का MCD और लोकसभा चुनावों में सफाया हो गया था।'

इससे पहले दिल्ली साइकिल वॉक का शिलान्यास करते हुए उन्होंने कहा कि मुझे यकीन है कि जब साइकिल ट्रैक प्रभावी होगा और इसे योजना के अनुसार बनाया जाएगा, तो यह दिल्ली के प्रदूषण को 20% तक कम कर देगा।उन्होंने आगे कहा कि जब दिल्ली के ये नए रास्ते पर 50 लाख से ज्यादा यात्री जब साईकल पर जाते होंगे तो साईकल चलाना ही फैशन होने वाला है।

अमित शाह के द्वारा आज इसका शिलान्यास किया जाएगा इसके लिए तुग़लकाबाद में एक रैली भी आयोजित की गई है जिसको अमित शाह संबोधित करेंगे। इससे पहले यहां पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं जगह-जगह बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। यह साइकिल ट्रैक विश्वस्तरीय होगा जो सिर्फ साइकिल और पैदल यात्रियों के लिए होगा। चुनाव से पहले इसे दिल्लीवासियों के लिए इसको बड़ा तोहफा माना जा रहा है। अमित शाह थोड़ी देर में पहुंचने वाले हैं।

यह साईकल ट्रैक दिल्ली के सभी हरित छेत्र को जोड़ेगा। हरित मार्ग जहाँपनाह सिटी फारेस्ट, महरौली, तुगलकाबाद, संजय वन, हौजखास को आपस मेम जोड़ेगा। जहां पर कोई रोड क्रॉस करना होगा वहां जरूरत के हिसाब से अंडरपास, ओवरब्रिज या यू-टर्न भी बनाये जाएंगे। 2.4 मीटर चौड़ा होगा साईकल ट्रैक, इसके बगल में इतना ही चौड़ा पैदल ट्रैक होगा। दोनों के बीच एक मीटर चौड़ा डिवाइडर होगा। इसमें फूल व अन्य पौधे लगाए जाएंगे। 

पूरी परियोजना 200 किलोमीटर की है जो करीब पांच साल में पूरी होगी। फिलहाल पहले चरण में इसे 36 किलोमीटर का बनाया जाएगा। 

पचले चरण में तीन कॉरिडोर बनेंगे- 

1- नीलगाय लाइन- बदरपुर से मालवीय नगर मेट्रो स्टेशन तक- 20.50 किलोमीटर

2- पीकॉक लाइन- मालवीय नगर मेट्रो स्टेशन तक- 8.5 किलोमीटर

3- बुलबुल लाइन- चिराग दिल्ली से नेहरू प्लेस और इस्कोन मंदिर तक- 07 किलोमीटर

दिल्ली शहरी निकाय के मुताबिक, 'दिल्ली साइकिल वॉक आवासीय क्षेत्रों के पास परिभाषित और सुरक्षित प्रवेश बिंदुओं के साथ एक नियंत्रित ट्रैक होगा, और काम के स्थानों, स्कूलों और इतने पर बाहर निकलने के बिंदुओं के पास होगा। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, प्रवेश के इन बिंदुओं को मूल-गंतव्य प्लाज़ा कहा जाएगा और इसमें वॉशरूम, साइकिल पार्किंग और अन्य सुविधाओं के मरम्मत की सुविधाएं होंगी। जबकि पूरे नेटवर्क को 200 किमी क्षेत्र में फैलाए जाने का अनुमान है, तीन गलियारों सहित पहले चरण में 36 किमी के क्षेत्र को कवर किया जाएगा।'

Posted By: Shashank Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस