नई दिल्‍ली, गाजियाबाद [आशुतोष गुप्‍ता]। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। इस फैसले के आने के बाद ऑल इंडिया मुस्‍लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के द्वारा पुनर्विचार याचिका दायर करने की बात कही जा रही है। इस मुद्दे पर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि राम मंदिर पर पुनर्विचार याचिका पर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पुनर्विचार करे।

हिंदू-मुस्लिम दोनों समाज ने राम मंदिर पर आए फैसले को स्वीकार कर लिया है। कुछ लोगों से हिंदू मुस्लिमों में सोहार्द का रिश्ता नहीं देखा जा रहा। भाजपा ने अपने सभी चुनावी मुद्दे पूरे किए हैं। हालांकि अभी भारत को विश्व गुरु बनाने का मुद्दा बचा हुआ है। वहीं देश के सबसे ज्‍वलंत मुद्दे बढ़ती जनसंख्‍या पर उन्‍होंने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण पर जनजागरण की आवश्यकता है।

बता दें कि राम मंदिर की विवादित जमीन 2.77 एकड़ पर सुप्रीम कोर्ट ने लगातार सुनवाई के बाद नौ नवंबर को फैसला सुनाया है। इसी फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्‍िलम पर्सनल लॉ बोर्ड ने फिर से पुनर्विचार याचिका दायर करने का मन बनाया है। हालांकि इसके कई सदस्‍य इसके खिलाफ हैं। बोर्ड ने कहा है कि वह कही अतिरिक्‍त जगह मस्‍जिद के लिए पांच एकड़ जमीन लेने के पक्ष में नहीं है।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस