नई दिल्‍ली, ऑनलाइन डेस्‍क। नामांकन में देरी पर चुनाव आयोग की ऑफिस की तरफ से बयान जारी कर कहा है कि हमें जानकारी मिली है कि केजरीवाल के नामांकन में हो रही देरी पर रिटर्निंग ऑफिसर के आरोप लगाए गए हैं। बताया जा था कि 30 से 35 मिनट तक कैंडिडेट के कागजात की चेंकिंग में लगाया जा रहा है ताकि उससे प्रकिया में देरी हो। आयोग ऑफिस ने कहा कि हम यह साफ साफ बताना चाहते हैं कि ऐसी सारी खबरें सच नहीं है। बेबुनियाद है। रिटर्निंग ऑफिसर ने ऐसा नहीं किया है। यह एक पूरी प्रक्रिया है, जिसमें समय लगता है।

आज थी आखिरी तारीख

बता दें कि दिल्‍ली चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया की आज (मंगलवार) को आखिरी तारीख थी। इस कारण भीड़ ज्‍यादा हो गई। हालांकि भीड़ बढ़ने का कारण यह भी बताया गया कि कई निर्दलीय प्रत्‍याशी आज नामांकन के लिए पहुंचे थे। इस कारण पूरी प्रकिया में और ज्‍यादा समय लगा। अरविंद केजरीवाल को भी नामांकन के लिए 45 वां नंबर मिला था और उन्‍हें करीब सात घंटे का इंतजार करना पड़ा। तीन बजे तक नामांकन दाखिल करने वाले प्रत्‍याशियों को हर हाल में टोकन ले लेना था तब ही उनका नामांकन दाखिल मंजूर किया जाता। इस कारण काफी आपाधापी रही। 

भाजपा, कांग्रेस व बसपा के कई नेता आप में गए

इधर आम आदमी पार्टी में सोमवार को भाजपा, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी के कई वरिष्ठ नेता शामिल हो गए। सभी नेताओं को राज्यसभा सदस्य संजय सिंह, आप के वरिष्ठ नेता दिलीप पांडे, दुर्गेश पाठक और हाजी यूनुस ने पार्टी की सदस्यता दिलाई। बसपा के वरिष्ठ नेता और तिमारपुर विधानसभा से चुनाव लड़ चुके प्रेम वाधवा समेत भाजपा व कांग्रेस के अन्य नेताओं ने पार्टी के प्रति अपनी आस्था जताते हुए दिल्ली की जनता और देश हित में संगठित होकर कार्य करने का भरोसा दिया।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस