नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में जीतने वाले नवनिर्वाचित विधायकों ने बुधवार को पार्टी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी से मुलाकात की। यह बैठक पार्टी प्रदेश मुख्यालय में हुई। बता दें कि भाजपा ने दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में से 8 पर जीत दर्ज की है। 

इससे पहले मंगलवार को चुनाव परिणाम आने के बाद दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि पार्टी हार की समीक्षा करेगी। प्रेस वार्ता करके उन्होंने कहा कि दिल्लीवासियों के फैसले का भाजपा सम्मान करती है। उम्मीद है दिल्ली की अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए केजरीवाल काम करेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा की अपेक्षाएं पूरी नहीं हुई जिसकी समीक्षा की जाएगी।

कार्यकर्ताओं को निराश नहीं होना चाहिएः मनोज 

कभी-कभी ऐसा होता है कि अपने पक्ष में निर्णय न होने पर निराशा होती है, लेकिन यही धैर्य रखने का समय होता है। कार्यकर्ताओं को निराश नहीं होना चाहिए। जनता ने कुछ सोचकर ही यह जनादेश दिया होगा। कार्यकर्ताओं की मेहनत से भाजपा का मत फीसद बढ़ा है। वर्ष 2015 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को लगभग 33 फीसद मत मिले थे। इस बार भाजपा को 38.46 फीसद मत मिला है। यदि जनता दल यूनाइटेड और लोक जनशक्ति पार्टी के मत को मिला दिया जाए तो 40 फीसद मत हमें प्राप्त हुए हैं।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब नए राजनीतिक युग की शुरुआत हो रही है। सिर्फ दो दलों के बीच मुकाबला रह गया है। दिल्ली में कांग्रेस लुप्तप्राय हो गई है। कांग्रेस का वोट पिछले चुनाव की तुलना में आधा रह गया है। इस बदले हुए राजनीतिक समीकरण को ध्यान में रखकर हम सभी को मेहनत करनी होगी। भाजपा के सभी सांसद दिल्ली के विकास के लिए काम करेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा के सभी सांसद व अन्य नेता व कार्यकर्ता जिन्हें जो जिम्मेदारी मिली है उसके अनुसार दिल्ली के विकास के लिए काम करेंगे।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस