नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। सर्द मौसम में दिल्ली का राजनीतिक पारा चढ़ता जा रहा है। खाली समय में लोग अपने वर्तमान विधायकों के कामों की चर्चा तो कर ही रहे हैं। उनका भावी विधायक कैसा हो, इस पर भी बात कर रहे हैं। वे बात कर रहे हैं कि किसे चुनेंगे, क्या-क्या विकास कार्य कराने का आग्रह करेंगे। दक्षिणी दिल्ली विधानसभा क्षेत्र के चिराग दिल्ली गांव, जमरूदपुर गांव, शाहपुर जाट गांव व सावित्री नगर आदि गांवों की चौपालों में यही चर्चाएं हो रही हैं।

इस विधानसभा में पंचशील एंक्लेव, पंचशील पार्क, पंचशील विहार, खिड़की एक्सटेंशन, जगदंबा कैंप, शेख सराय फेस-1, स्वामी नगर, ग्रेटर कैलाश पार्ट-1 व पार्ट-2, सीआर पार्क, अलखनंदा कॉलोनी, डीडीए फ्लैट्स कालकाजी, कैलाश कॉलोनी, माउंट कैलाश, संत नगर कॉलोनी, बिंदुसार कैंप, कैलाश हिल्स आदि आती हैं। इस विधानसभा में ज्यादातर पॉश कॉलोनियां हैं। वहीं, कई जेजे कैंप भी हैं।

  • क्षेत्र के मुद्दे

  • जीके-1 एम-ब्लॉक व जीके-2 एम-ब्लॉक में पार्किंग की गंभीर समस्या है।
  •  जीके- 1 जीके-2 में पीक आवर में सुबह शाम लोगों को भयंकर जाम का सामना करना पड़ता है। इसकी वजह यह है कि यहां पर हर घर में लोगों के पास एक से अधिक गाड़ियां हैं।
  •  सावित्री नगर गांव में सीवर की समस्या है।
  •  लाल बहादुर शास्त्री मार्ग (पुराना बीआरटी) तोड़ तो दिया गया, लेकिन अभी कई बस स्टॉप पूरी तरह से बन नहीं पाए हैं।
  • एलबीएस मार्ग को सिग्नल फ्री किया गया है, जिससे इस पार जाम की समस्या कम हुई है लेकिन अभी इस पर स्थायी रूप से यू-टर्न बनाए जाने हैं।

पुराने बीआरटी को तोड़कर उसे सामान्य रूप में लाने के कारण आज इस मार्ग पर जाम की समस्या कम हुई है। अब इसके सभी बस स्टॉप को पूरा किए जाने और इसके यू-टर्न को पक्का करने की जरूरत है। बीआरटी हम लोगों के लिए मुसीबत बना हुआ था। अब इससे छुटकारा मिल गया है। हम चाहते हैं कि जो भी विधायक जीतकर आए, विकास कार्य तेजी से करवाए। - सुरेश बेनीवाल

जीके-1 व जीके-2 में पार्किग की गंभीर समस्या है। इससे निजात दिलाई जानी चाहिए। लोगों के पास गाड़ियां हैं, लेकिन उन्हें खड़ी करने की जगह नहीं है। वहीं, एलबीएस मार्ग को सिग्नल फ्री तो कर दिया है, लेकिन अभी इस पर स्थायी यू-टर्न नहीं बन पाए हैं। चिराग दिल्ली गांव में दिल्ली सरकार की ओर से बनाई गई डिस्पेंसरी से लोगों को काफी राहत मिली है।- सुरेंद्र सहरावत

इस क्षेत्र के लोग काफी समय से पानी की गंभीर समस्या से जूझ रहे थे, जिसका काफी हद तक समाधान तो हो गया है लेकिन लोगों को अभी भी पार्किग की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। सड़क पर गाड़ियां खड़ी करने से अक्सर कारों की बैट्री चोरी हो जाती है। हमारे क्षेत्र के श्मशान की बाउंड्री बना दी गई है,साथ ही इसे पक्का भी कराया गया है। हालांकि, लोगों को जाम से राहत दिलाने के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधि को पहल करने की जरूरत है। - अमित कुमार सोनू

लोगों का कहना है कि हम लोगों के लिए बीआरटी सबसे बड़ी मुसीबत बना हुआ था। ऐसे में क्षेत्र के विधायक सौरभ भारद्वाज ने इसे तोड़वाकर इलाके के लोगों को जाम से काफी राहत दिलाई है। इस मार्ग पर स्थानीय लोगों की तरफ से फुट ओवर ब्रिज (एफओबी) बनाने की मांग पिछले करीब 20 सालों से की जा रही थी, लेकिन वे नहीं बन पाए थे, लेकिन अब दो फुट ओवर ब्रिज बन गए हैं तो दो और पर अभी काम चल रहा है। इनके बन जाने पर लोगों के लिए सुरक्षित सड़क पार करना आसान हो जाएगा।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस