जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने बृहस्पतिवार को प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार किया। उन्होंने ताबड़तोड़ सभाओं को संबोधित किया और चुनावी कार्यालयों का उद्घाटन किया। कोंडली विधानसभा क्षेत्र में उन्होंने तीन जगहों दल्लूपुरा, घड़ोली और कल्याणपुरी में सभाओं को संबोधित किया।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि पूर्वी दिल्ली की जो सबसे बड़ी समस्या है वह इसी विधानसभा क्षेत्र में है और वह है गाजीपुर लैंडफिल साइट। इसे खत्म करने के लिए वे लगातार प्रयासरत हैं। अब अगर यहां के विधायक भी भाजपा के हो जाते हैं तो वे दोनों मिलकर इस समस्या को जड़ से समाप्त करने के लिए प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि लोग जितना मुझे मजबूत करेंगे वे उससे अधिक मजबूती से कार्य कर पाएंगे। इस मौके पर पार्षद राजीव चौधरी ने कहा कि इस विधानसभा क्षेत्र के लोग कई समस्याओं से परेशान हैं। इसमें कचरे से बिजली बनने के संयंत्र से होने वाले प्रदूषण, यातायात, अत्याधुनिक परिवहन की कमी शामिल है।

गाजीपुर से लेकर कोंडली तक की सड़कें बदहाल हैं। यहां भयंकर जाम लगता है, जिससे यहां गाजीपुर से कोंडली के बीच एलिवेटेड रोड बनाए जाने की जरूरत है। यहां मेट्रो लाइन अब तक नहीं आई है। फेज चार में यहां मेट्रो लाइन प्रस्तावित है, लेकिन इस पर अब तक कोई काम नहीं हुआ है। चौधरी ने कहा कि गंभीर ऐसे पहले सांसद हैं जो संसद से लेकर सड़क तक गाजीपुर लैंडफिल की समस्या को उठा रहे हैं और उसके खात्मे के लिए काम कर रहे हैं। यहां के प्रत्याशी राजकुमार ढिल्लो ने कहा कि आठ फरवरी तक उनकी चिंता कार्यकर्ता व यहां के निवासी करें। उसके बाद पांच साल तक चिंता करने की बारी मेरी रहेगी। कार्यकर्ताओं को मेरे पास आने की जरूरत नहीं होगी।

इसके बाद गौतम गंभीर और उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने पटपड़गंज और त्रिलोकपुरी में भी नुक्कड़ सभा को संबोधित किया। इस मौके पर उन्होंने दोनों विधानसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी किरण वैद्य और रवि नेगी के चुनावी कार्यालय का भी उद्घाटन किया। इस मौके पर जिलाध्यक्ष डॉ. धीरज जोशी ललित,

अजर्य ंसह भंडारी, सुभाष शर्मा, मयंक रावत और सुनील नागर भी मौजूद रहे।

Posted By: Sanjay Pokhriyal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस