नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपीसी) के चेयरमैन व विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने बुधवार को ट्वीट करके दिल्ली सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में 11 व 12 नवंबर को श्रीगुरु नानक देव का 550वां प्रकाश पर्व मनाया जाना है, दिल्ली में ऑड-इवेन लागू है।

प्रकाश पर्व में शामिल होने वाले लोग ऑड-इवेन से न घबराएं, अगर किसी का ऑड-इवेन के तहत चालान कटता है तो उसका भुगतान डीएसजीपीसी करेगी।

केजरीवाल पर साधा निशाना 

सिरसा ने बताया कि उन्होंने सितंबर में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से गुहार लगाई थी कि 11 व 12 नवंबर को गुरु पर्व है, ऐसे में ऑड-इवेन लागू न किया जाए। लेकिन सरकार ने नहीं सुनी। यह सिखों का सबसे बड़ा पर्व है, दिल्ली के लोग इस पर्व को लेकर बहुत खुश हैं। पर्व में शामिल होने वाली कई संगतों से इस बात को लेकर फोन आए कि दिल्ली में ऑड-इवेन लागू है, उनके चालान हो जाएंगे। इसके जवाब में उन्होंने लोगों से कहा कि वह ऑड-इवेन की चिंता न करें, चालान का डर निकाल दें व पर्व में शामिल हों।

उन्होंने कहा कि दिल्ली यातायात पुलिस जहां भी संगत या फिर पर्व में शामिल होने जा रहे लोगों का चालान करेगी तो डीएसजीपीसी उनके साथ खड़ी होगी, चालान होने पर कमेटी अपने फंड से उसका भुगतान करेगी। 11 नवंबर को संगत शीशगंज और नानक प्याऊ जाएगी और 12 नवंबर को दिल्ली के सभी गुरुद्वारों में गुरु पर्व के कार्यक्रम होंगे।

गुरुद्वारा नानक प्याऊ में सुशोभित हुई सोने की पालकी: सिरसा

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपीसी) ने संगत के सहयोग से गुरुद्वारा नानक प्याऊ के लिए बंगला साहिब गुरुद्वारे में सोने की पालकी तैयार करवाई है। पालकी की सेवा दमदमी टकसाल के मुखी बाबा हरनाम सिंह खालसा जी द्वारा की गई है।

दिल्ली कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि भक्तों द्वारा बुधवार को पालकी गुरुद्वारा नानक प्याऊ में स्थापित कर दी गई है। गुरुवार सुबह तड़के तीन बजे से भक्त पालकी का दर्शन कर सकेंगे। इस मौके पर डीएसजीपीसी के महासचिव हरमीत सिंह कालका, तजिंदरपाल सिंह गोल्डी, जसप्रीत सिंह विक्की मान भी मौजूद थे।

सिरसा ने कहा कि दिल्ली कमेटी पूरी दुनिया को गुरु नानक देव का संदेश व उपदेश बताने का प्रयास कर रही है। गुरु नानक देव के प्रकाश पर्व के समागम गुरुद्वारा नानक प्याऊ में 9 नवंबर से होंगे। उन्होंने संगत से ज्यादा से ज्यादा संख्या में कार्यक्रम में पहुंचने को कहा। जो पालकी गुरुद्वारा नानक प्याऊ में सुशोभित थी, वह गुरुद्वारा मजनू का टीला में सुशोभित की जाएगी।

ये भी पढ़ेंः फर्जी सीबीआइ अधिकारी बनकर AAP विधायक से वसूली करने पहुंचे दो बदमाश गिरफ्तार

ये भी पढ़ेंः दिल्ली के लोगों को आज मिलेगी 100 नई बसें, सीएम केजरीवाल दिखाएंगे हरी झंडी

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप