नई दिल्ली, एएनआइ। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आगामी चुनावों के कारण शरजील इमाम की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं, लेकिन जब यह चुनाव खत्म हो जाएंगे तो केजरीवाल ही पहले ऐसे व्यक्ति होंगे, जो इमाम की गिरफ्तारी के खिलाफ होंगे। भाजपा सांसद संजीव बालियान ने मंगलवार को यह कहा।

बालियान ने कहा, 'शरजील को निश्चित रूप से गिरफ्तार किया जाएगा, इस संबंध में शिकायत दर्ज हो गई है, लेकिन एक बार जब वह गिरफ्तार हो जाता है, तो केजरीवाल उन लोगों के बीच होंगे, जो इमाम की गिरफ्तारी पर रोना रोएंगे। केजरीवार अभी सिर्फ इसलिए इमाम की गिरफ्तारी के लिए कह रहे हैं, क्योंकि चुनाव नजदीक हैं। एक बार जब चुनाव निकल गए तो केजरीवाल चार्जशीट दाखिल करने की अनुमति नहीं देंगे।'

गिरफ्तार हो चुका है इमाम

संजीव बालियान के केजरीवाल पर हमले के कुछ देर बाद शरजील इमाम को बिहार पुलिस से मदद से दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर दिया है। देशद्रोह और भड़काऊ भाषण देने वाले शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद के काको प्रखंड से गिरफ्तार कर लिया गया है। देशद्रोही बयान देने का वीडियो वायरल होने के बाद शरजील इमाम फरार था।

देशद्रोही बयान देने के मामले में दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज किया था। इसके अलावा यूपी और असम समेत राज्यों में भी मामला दर्ज था। क्राइम ब्रांच का कहना था कि शरजील, शाहीन बाग धरने का मास्टरमाइंड है। शाहीम बाग में काफी समय से CAA, NRC और NPC को लेकर धरना प्रदर्शन चल रहा है। बता दें कि 13 दिसंबर को शरजील ने सबसे पहले जामिया में देश के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया था। उसके बाद शाहीन बाग धरने का पहला नेतृत्व उसी ने किया था और वहां भी आपत्तिजनक बयान दिया था।

जामिया के बाद देश में जहां-जहां धरना प्रदर्शन किया गया, शरजील वहां पहुंच कर देश को बांटने जैसे भाषण दिए। 16 जनवरी को शरजील ने अलीगढ़ में असम को लेकर जो बयान दिया वह सोशल मीडिया में बहुत तेजी से वायरल हो गया। बिहार के जहानाबाद का रहने वाला शरजील 13 दिसंबर के बाद से जगह-जगह घूमकर सरकार के खिलाफ भड़काऊ भाषण दे रहा है।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस