नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Delhi Election 2020:  आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) बागियों को मनाने में कुछ हद तक सफल रही है। पार्टी ने तीन को मना लिया है, जबकि तीन अभी भी मैदान में डटे हैं। माना जा रहा है कि यदि ये लोग कुछ फीसद वोट भी पा लेते हैं तो इन तीन सीटों पर AAP को नुकसान हो सकता है। हालांकि पार्टी के दिल्ली चुनाव प्रभारी संजय सिंह कहते हैं कि इन तीनों ने दूसरे दलों से नामांकन कराया है। इनसे पार्टी को कोई नुकसान नहीं है।

टिकट काटे जाने से नाराज सीलमपुर से विधायक हाजी इशराक, कोंडली से मनोज कुमार, हरी नगर के जगदीप सिंह ने निर्दलीय पर्चा भर दिया था। दिल्ली कैंट से विधायक सुरेंद्र सिंह कमांडो ने एनसीपी से, बदरपुर से एनडी शर्मा ने बीएसपी व गोकलपुर सीट से चौधरी फतेह सिंह ने एनसीपी से पर्चा भरा था। वहीं, द्वारका से AAP विधायक आदर्श शास्त्री नाराज होकर कांग्रेस से चुनाव लड़ रहे हैं।

बता दें कि अवतार सिंह कालका ने भी कालकाजी सीट से नामांकन कराने की बात कही थी। पार्टी ने हाजी इशराक, मनोज कुमार, जगदीप सिंह को मना लिया है। तीनों ने पार्टी के समर्थन में नाम वापस ले लिया है। अवतार सिंह कालका, मुंडका विधायक सुखबीर सिंह दलाल को भी पार्टी ने मना लिया। उन्होंने पर्चा ही नहीं भरा।

विधायक राजू धिंगान और तिमारपुर से पंकज पुष्कर और राजेंद्र नगर वे विजेंद्र गर्ग भी पार्टी के लिए काम कर रहे हैं। मगर, तीन विधायक अभी भी चुनावी मैदान में हैं। इनमें सुरेंद्र सिंह कमांडो, चौधरी फतेह सिंह एनसीपी के टिकट से मैदान में हैं। वहीं बदरपुर से एनडी शर्मा भी बागी होकर चुनाव लड़ रहे हैं।

ऐसे में AAP के रणनीतिकारों को चिंता है कि यह लोग पार्टी के प्रत्याशियों के वोट काटकर उन्हें नुकसान पहुंचाएंगे। अब देखना यह होगा कि ये तीनों लोग चुनाव को किस स्तर तक ऊपर उठा सकते हैं और वोट बटोर सकते हैं।

दिल्ली चुनाव से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस