नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। Delhi assembly election 2020: दिल्ली में कांग्रेस की लड़खड़ाती पारी संभालने का जिम्मा पूर्व क्रिकेटर को दिया जा सकता है। यह क्रिकेटर प्रदेश कांग्रेस में भले ही सक्रिय न हो, लेकिन दिल्ली के ही रहने वाले हैं और पूर्व में दिल्ली में राजनीति भी कर चुके हैं। इनके नाम पर पार्टी आलाकमान सोनिया गांधी और प्रदेश प्रभारी पीसी चाको के बीच भी सहमति बन गई है, इंतजार अब केवल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ विचार-विमर्श होने का हो रहा है।

दरअसल, राहुल अभी विदेश में हैं, बृहस्पतिवार को वापस आने की संभावना है। उम्मीद की जा रही है दिल्ली कांग्रेस के नए अध्यक्ष की घोषणा बृहस्पतिवार या शुक्रवार को कर दी जाएगी।

गुटबाजी रोकने की कोशिश 

इस वक्त दिल्ली कांग्रेस में गुटबाजी चल रही है, तमाम बड़े नेता अलग-अलग गुटों में बंटे हुए हैं। इस स्थिति को पार्टी आलाकमान 1998 के उसी दौर से तुलना करते हुए देख रही है जब गुटबाजी की इसी स्थिति को संभालने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को बाहर से लाकर दिल्ली की कमान सौंप दी गई थी। आलाकमान का मानना है इस समय भी गुटबाजी को थामने का यही एक जरिया है।

पार्टी सूत्र बताते हैं कि 20 जुलाई को शीला दीक्षित के निधन के बाद से सोनिया और चाको के बीच नए अध्यक्ष के नाम पर कई बैठक हो चुकी है, तमाम नामों पर विचार विमर्श भी किया जा चुका है। कुछ नामों पर सोनिया असहमत थीं कुछ पर चाको ने सहमति नहीं दी। मंगलवार को दशहरा पर भी सोनिया, चाको और एआइसीसी के महासचिव केसी वेणुगोपाल के बीच लंबी चर्चा हुई। बुधवार को भी मंत्रणा का दौर जारी रहा।

नए नाम पर सहमति बनी 

बताया जाता है लंबी रस्साकशी के बाद इस पूर्व क्रिकेटर के नाम पर सहमति बन गई है। उम्मीद है कि राहुल की भी इस नाम पर मुहर लग जाएगी। दूसरी तरफ पार्टी सूत्रों की मानें तो दिल्ली कांग्रेस में तीन कार्यकारी अध्यक्षों का फॉमूर्ला भी जारी रह सकता है। हालांकि तीनों कार्यकारी अध्यक्षों को भी बदला जाएगा और इनकी जगह नए चेहरे लाए जाएंगे। नए कार्यकारी अध्यक्षों की घोषणा भी नए अध्यक्ष के साथ ही की जा सकती है। ताकि दिल्ली के सियासी समीकरण को साधा जा सके। 

बता दें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव साल 2020 में जनवरी या फरवरी के पहले सप्ताह तक हो सकता है। ऐसे में सभी राजनीतिक दल चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं। पूर्व सीएम शीला दीक्षित के निधन के बाद से ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का पद रिक्त है।

ये भी पढ़ेंः सीएम केजरीवाल का डेनमार्क दौरा रद होने पर गरमाई राजनीति, जनता के बीच जाएगी AAP

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप