नई दिल्‍ली, राज्‍य ब्‍यूरो। दिल्‍ली विधानसभा चुनाव 2020 में पहली बार वोट देने वाले मतदाताओं में युवाओं की तादाद अधिक है। दोपहर एक बजे दिल्ली में मतदान फीसद 26.36 था जबकि अपराहन तीन बजे यह 41.5 फीसद दर्ज किया गया है। इस हिसाब में अब अंतिम दो घंटे में मतदान फीसद और तेजी से बढ़ने के आसार हैं। अगर मतदान अच्छा होता है तो निश्चित तौर पर यह चुनावी नतीजों पर भी असर डालेगा।

सुबह के समय मतदान की रफ्तार कुछ धीमी थी, लेकिन अब बढ़नी शुरू हो गई है। यूं तो प्रत्येक वर्ग के मतदाता वोट देने के लिए घर से निकल रहे हैं, लेकिन युवा मतदाताओं खासकर पहली बार वोट देने वाले मतदाताओं की संख्या अच्छी खासी है। मुस्लिम बहुल इलाकों में भी मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी लंबी कतारें देखने को मिल रही हैं।

हालांकि देखने में यह भी आ रहा है कि राजनीतिक दलों की तमाम सियासत और चुनाव आयोग के सभी जागरूकता अभियानों के बावजूद मतदान फीसद 2015 के विधानसभा चुनाव की तुलना में यह कम ही रहने के आसार हैं। मालूम हो कि 7 फरवरी 2015 को 67 फीसद मतदान हुआ था जबकि इस बार यह अधिकतम 60 फीसद तक ही सिमटता नजर आ रहा है।

कड़ी सुरक्षा के बीच राष्‍ट्रीय राजधानी में शनिवार सुबह 8 बजे वोटिंग शुरू हुआ। यह शाम 6 बजे तक चलेगा। अपने अपने मताधिकार का प्रयोग करते हुए सुबह से ही लोग मतदान केंद्रों पर पहुंच रहे हैं। मतदाता उससे पहले ही मतदान केंद्रों पर पहुंचने लगे थे। आम जनता के अलावा नेता और केंद्रीय मंत्री भी मतदान के लिए पहुंच रहे हैं।

दिल्‍ली विधानसभा चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करने वाले मतदाताओं की संख्‍या 1.4 करोड़ से अधिक है। कुल 1,47,86,382 मतदाताओं में से 81,05,236 पुरुष मतदाता और 66,80,277 महिला मतदाता हैं। इसके अलावा 869 थर्ड जेंडर मतदाता भी हैं। चुनाव के लिए कुल 2,688 जगहों पर 13,571 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इनमें से 3,141 पोलिंग बूथ क्रिटिकल है और 144 संवेदनशील है l

यह भी पढ़ें: Delhi Election 2020: मौसम नहीं करेगा परेशान, जमकर करें मतदान; 10 फरवरी को गिरेगा

यह भी पढ़ें: केजरीवाल लगा पाएंगे हैट्रिक या होगा उलटफेर, पढ़ें- नई दिल्ली सीट की सबसे रोचक बात

 

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस