नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Delhi Assembly Election 2020:  दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 में बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाताओं की सुविधा के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) कार्यालय विशेष एप तैयार कर रहा है, जिसे पिक एंड ड्रॉप एप नाम दिया गया है। इस एप के माध्यम से बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाता बूथ पर पहुंचने के लिए वाहन का अनुरोध कर सकेंगे। अनुरोध मिलने पर चुनाव से जुड़े अधिकारी वाहन लेकर उनके घर जाएंगे और मतदान केंद्र पर लाएंगे। बुजुर्गों व दिव्यांगों को सुविधा के लिए पहली बार इस एप का इस्तेमाल होगा।

चुनाव अधिकारियों को उम्मीद है कि बड़ी संख्या में बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाताओं को इस सुविधा का लाभ मिलेगा। इस पहल से वोट फीसद में बढ़ोतरी हो सकती है। दरअसल, दिव्यांग व बुजुर्गों को पिक एंड ड्रॉप की सुविधा देने की सीईओ कार्यालय ने तैयारी की है। 80 साल से अधिक उम्र वाले बुजुर्गों व दिव्यांगों को यह सुविधा मिलेगी। हालांकि, उन्हें इस बार घर बैठे मतदान की भी सुविधा दी जा रही है पर जो लोग लोकतंत्र के इस पर्व में मतदान केंद्र पर पहुंचकर मताधिकार का इस्तेमाल करना चाहते हैं, उन्हें लेने घर वाहन भी भेजा जाएगा। इसके लिए उन्हें 21 से 31 जनवरी के बीच सीईओ कार्यालय में अनुरोध भेजना होगा। 80 साल से अधिक उम्र के करीब दो लाख पांच हजार मतदाता हैं। इसी तरह 55,823 दिव्यांग मतदाता है। यानी करीब 2.60 हजार मतदाताओं को घर से मतदान केंद्र लाने और उन्हें वापस घर छोड़ने की सुविधा दी जाएगी। इसके लिए उन्हें सुविधा की मांग करना जरूरी है।

चार माध्यम से वाहन के लिए कर सकते हैं मांग

बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाता चार माध्यमों से वाहन की मांग कर सकते हैं। इसमें वोटर हेल्पलाइन नंबर (1950) अहम है। लोग इस नबंर पर कॉल करके वाहन के लिए अनुरोध कर सकते हैं। इस नंबर पर 24 घंटे कर्मचारी तैनात रहेंगे। इसके अलावा 7738299899 नंबर पर मैसेज भेज कर भी वाहन उपलब्ध कराने की मांग की जा सकती है। साथ ही सीईओ कार्यलय की वेबसाइट पर भी विकल्प उपलब्ध कराया जाएगा। इसके साथ ही साथ ही पिक एंड ड्रॉप एप तैयार किया जा रहा है। 21 से 31 जनवरी के बीच इस एप के माध्यम से अनुरोध भेजना जरूरी है। इसके बाद एक अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जाएगी, जो वाहन लेकर उनके घर जाएंगे और मतदान केंद्र पर लाकर मतदान कराएंगे और उन्हें वापस पहुंचाएंगे। वाहन के लिए अनुरोध करने वाले मतदाताओं को मैसेज भेजकर यह भी बताया जाएगा कि उन्हें लेने वाहन कब पहुंचेगा।

जेएल गुप्ता (ओएसडी इलेक्शन, सीईओ कार्यालय) के मुताबिक, पिक एंड ड्रॉप की सुविधा से अधिक संख्या में बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाता मताधिकार के लिए प्रेरित होंगे। इसका मकसद यह है कि कोई भी व्यक्ति मताधिकार से वंचित न होने पाए। 31 जनवरी तक वाहन के लिए अनुरोध स्वीकार किया जाएगा क्योंकि इसके बाद वाहनों की व्यवस्था भी करनी होगी।

दिल्ली चुनाव से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस