नई दिल्‍ली, जागरण संवाददाता। राम चंद्र वर्ष 2017 के उप चुनाव में आप के रामचंद्र पहली बार विधायक बने। उत्तर प्रदेश से वर्ष 1980 में दिल्ली आने के बाद सामाजिक कार्यों से जुड़ गए। शाहबाद डेरी क्षेत्र में छोटे व्यापार का कार्य शुरु किया। इसी दौरान क्षेत्र के पिछड़े व जरूरतमंद लोगों की सहायता का कार्य शुरु किया। वह सामाजिक कार्यों में सक्रिय रुप से भागीदारी निभाते रहे हैं। गरीबों व पिछड़ों की बात नहीं सुनी जा रही है और नेता व अधिकारी उनकी बात पर ध्यान नहीं दे रहे हैं इसलिए उन्होंने राजनीति में आने का फैसला लिया। वर्ष 2007 से वह राजनीति में सक्रिय हो गए थे। साधारण मध्यम परिवार से ताल्लुख रखने वाले राम चंद्र का मानना है कि यदि समाज के लिए कुछ करना चाहते हैं तो सादा जीवन ही जीना चाहिए।

विधायक का नाम- राम चंद्र 

विधानसभा क्षेत्र- बवाना 

राजनीतिक दल- आप 

शिक्षा- दसवीं पास 

परिवार के सदस्य- पत्नी, मां, दो बेटे और तीन बेटियां 

उम्र- 54

 

पोलिंग स्टेशन : 344

मतदाता- 315175

पुरुष मतदाता- 173925

महिला मतदाता- 141235

अन्य : 15

उपलब्धियां :

  • - शाहबाद डेरी में 148 कमरों का स्कूल बनाया गया।
  • - रोहिणी सेक्टर 25, कुतुबगढ़ समेत कई ग्रामीण इलाकों में नए विद्यालयों का निर्माण
  • - बवाना की कॉलोनियों में सीवर व पाइप लाइन डालने का कार्य
  • - वर्षों से बंद पड़े यूजीआर को शुरु किया।
  • - जे जे कॉलोनियों में गलियों व सड़कों का निर्माण कार्य करवाया।
  • - क्षेत्र में दस मुहल्ला क्लिनिक का निर्माण हुआ।
  • - 2000 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए।
  • - जोहड़ों के सुंदरीकरण समेत चौपाल व श्मशान घाट बनाए गए।
  • - प्रहलादपुर में अंबेडकर भवन का निर्माण करवाया।
  • - रोहिणी सेक्टर 25 में गलियों व सड़कों का निर्माण करवाया।
  • - क्षेत्र के 24 गांवों में विकास कार्य किए गए
  • - पूठखुर्द में 16 करोड़, प्रहलादपुर में 9 करोड़, शाहबाद, विजय नगर में 9 करोड़ की लागत से विकास कार्य किए गए।
  • - बवाना ग्राम सभा 109 गलियों का निर्माण कार्य हुआ।

दावों का पोस्टमार्टम :

वर्ष 2017 के उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी के रुप में वेद प्रकाश दूसरे नंबर पर रहे थे। इनका कहना है कि...,

- पानी के पाइपलाइन को बिछाने के लिए किए गए कार्य का प्रारंभ मैने अपने कार्यकाल में ही किया था आजतक उसे पूरा नहीं किया गया।

- बवाना में वाटर ट्रिटमेंट प्लांट का शुभारंभ मैने करवाया था जिसकी वजह से लोगों को शुद्ध पानी मिला।

- हमारे किए कार्यों का अपना बता रहे हैं क्योंकि इनका विकास जीरो है।

- सरकारी स्कूलों को माॅडर्न स्कूल बनाना केवल दिखावा क्योंकि शिक्षा के स्तर में गिरावट आई है।

- पानी के टैंकरों के लिए 100 प्वाइंट बनाए गए थे लेकिन आज यह मात्र 7-8 रह गए हैं।

- जेजे कालोनियों में जल निकासी की समस्या को दूर करने की दिशा में कोई प्रयास नहीं किए गए।

- आजतक यहां मेट्रो रेल की सुविधा को लोगों तक पहुंचाने के लिए कार्य नहीं किया गया जबकि इसे चौथे फेज में शामिल करने का कार्य मैने पूरा किया था।

- चुनाव का समय आने पर इन्होंने नई योजनाओं की शुरुआत की है लेकिन पिछले साढ़े चार वर्षों में कुछ भी नहीं किया।

 

ऐसे हों हमारे विधायक:

- लोगों की समस्याओं को दूर करने के लिए हर संभव प्रयास करें

- अपने विधानसभा क्षेत्र के लोगों से जुड़ाव हो ताकि उनकी समस्याओं को समझ सकें

- विकास कार्यों को उचित समय में पूरा कर लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरें

 

जनता की राय :

क्षेत्र में विकास कार्य हुए हैं। सीसीटीवी कैमरे, बुजुर्गों की तीर्थ यात्रा व वाल्मिकी अस्पताल और स्कूलों में सुधार हुआ है, लेकिन दो साल से दादा भैया चौपाल का नवीनीकरण तथा स्टेडियम में सिंथेटिक ट्रैक के निर्माण का कार्य भी अभी भी अधूरा ही है। बवाना गांव क्षेत्र का बड़ा गांव होते हुए भी यहां सीवर लाइन नहीं डाली गई है। जिसके कारण गंदा पानी बरसाती नाले में जाता है और मजबूरन किसान सिंचाई के काम में लेते हैं।

हरि प्रकाश सहरावत, बवाना गांव

बवाना में यातायात जाम तथा बरवाला में लाल बत्ती के पास जलभराव से लोगों का आना-जाना मुश्किल हो जाता है जिस तरफ भी ध्यान नहीं दिया गया। ग्रामीण क्षेत्रों में परिवहन सुविधा का अभाव है। यहां अब तक मेट्रो रेल नहीं पहुंच सकी है जिसका लोग लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं।

केवल, दरियापुर गांव, बवाना

इलाके के ज्यादातर क्षेत्रों में लोग पानी की किल्लत से लोग जूझ रहे हैं। लोगों को सड़कों पर जलभराव से जूझना पड़ता है। बसों की घोर कमी है और जिसकी वजह से लोगों को परिवहन की बेहतर सुविधाएं नसीब नहीं हो रही हैं। मोहल्ला क्लीनिक में सुविधाओं की कमी है और कई बंद हो चुके हैं। इसके अलावा पश्चिमी यमुना नहर में जेजे कॉलोनी वासियों द्वारा गंद फैलाने से पानी के दूषित होने की समस्या भी बरकरार है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

संजय, कृष्ण विहार, बवाना

अनधिकृत काॅलोनियों में कुछ गलियां व नालियों का निर्माण हुआ है। मुहल्ला क्लीनिक भी कुछ नए खुले हैं जिनमें लोगों को नियमित दवाइयां मिल रही हैं। कम दरों पर उचित दवाईयां मिलने से जरूरतमंदों को राहत मिली है। वहीं दूसरी ओर पानी की आपूर्ति को बेहतर बनाने के लिए टैंकरों की सुविधा दी गई है और नई पाइपलाइन बिछाने का भी काम हुआ है।

मुकेश सोलंकी, पूठकलां, बवाना

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस