नई दिल्‍ली, एएनआइ। दिल्‍ली के चुनाव पर अमित शाह ने कहा कि ऐसे कई चुनाव आए जिनमें लगता था कि इस बार मामला फंसा हुआ है, लेकिन जब-जब हमारे साइबर योद्धाओं ने लड़ाई की कमान संभाली विजयी हर बार नरेंद्र मोदी और भाजपा की हुई। 

प्रचंड बहुमत से बनेगी भाजपा सरकार

अमित शाह ने कहा कि प्रचंड बहुमत से दिल्ली में बनेगी भाजपा की सरकार। हर राज्य का कठिन से कठिन चुनाव भाजपा ने पार किया है। आज भाजपा ने साइबर योद्धाओं को बुलाया है। जब आप भाजपा का समर्थन करते हैं तो देश की सीमाओं की सुरक्षित करने के मोदी के वादे का समर्थन करते हो। देश के 60 करोड़ लोगों को सारी सुविधाएं उपलब्ध कराने के मोदी के विजन का समर्थन करते हो।

जेएनयू वाले केजरीवाल के साथ

दिल्ली सरकार के झूठ का पर्दाफाश करने लिए आपको बुलाया गया है। दिल्ली की जनता केजरीवाल के साथ नहीं बल्कि हमारे साथ है। केजरीवाल को जिताने के लिए जेएनयू वाले, कुछ मीडिया और कुछ एनजीओ वाले लगे हैं। 2019 के चुनाव में 137050 बूथ थे। इसमें से 12068 बूथ में कमल खिला। आजकल मैं कुछ भी बोलता हूं, केजरीवाल तुरंत ट्वीट कर देते हैं। वो दिल्ली की जनता से ज्यादा मेरा नाम लेते हैं।

फिर उठा पानी का मुद्दा

आज दिल्ली की जनता सबसे गंदा पानी पी रही है। जल बोर्ड को घाटे में पहुंचा दिया। मां यमुना को साफ करने का वादा किया था, लेकिन आज क्या हाल है सब जानते हैं।

शिक्षा व्‍यवस्‍था पर किया हमला

शाह ने केजरीवाल पर शिक्षा व्‍यवस्‍था को लेकर भी तंज कसा। कहा कि उन्‍होंने शिक्षा व्यवस्था बदहाल कर दी। केजरीवाल बताएं कि 1000 स्कूल कहां बना दिया। एक भी कॉलेज शुरू नहीं हुआ। ढाई लाख बच्चे स्कूल छोड़ चुके हैं। दिल्ली को प्रदूषण मुक्त नहीं कर पाए। दिल्ली को केजरी ने जहरीली हवा दी।

भाजपा ने घर-घर में फ्री गैस पहुंचाया,  केजरीवाल ने नई बसें लाने का वादा किया था लेकिन 1087 बसें कम कर दिन। मेट्रो मोदी सरकार ने बनवाई। केजरीवाल ने मेट्रो के चौथे चरण को ढाई साल लटकाए रखा। कहां गए केजरीवाल के 15 लाख cctv कमरे, कहां गयी वाइफाई। अस्पताल बदहाल हैं। मोदी ने देश में पीएम आयुष्मान भारत योजना लाये। लेकिन, दिल्ली में केजरीवाल ने इसे लागू नही होने दिया। दिल्ली के गरीबों को यह लाभ नहीं मिल सका क्योंकि केजरीवाल को डर था कि इससे जनता मोदी के साथ जुड़ जाएगी।

इधर, मनोज तिवारी ने भी जीत की गूंज कार्यक्रम में कहा चुनाव में एक तरफ झूठ की राजनीति करने वाले हैं, तो दूसरी तरफ अच्‍छी नीयत के साथ भाजपा खड़ी है। एक तरफ वो भी हैं जिन्होंने दिल्ली में 15 साल शासन किये, लेकिन एक झुग्गी में एक से ज्यादा नल नहीं लग पाया। साढ़े चार साल कहा कि पीएम मोदी और एलजी ने काम नहीं करने दिया। अब वो कह रहे हैं कि अच्छे बीते पांच साल। हमारा मुद्दा साफ पानी, स्वास्थ्य है।

वो लोग जो कहते हैं जो शाहीन बाग का समर्थन करते हैं। वहीं वहां लोग कहते हैं नरेंद्र मोदी और अमित शाह को मार डालो। ऐसा कहने वालों को दिल्ली की जनता 8 फरवरी को जवाब देगी।

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस