नई दिल्ली, जेएनएन। आम आदमी पार्टी (AAP) दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कहा है कि दिल्ली में बढ़ते अपराध और भाजपा शासित नगर निगम की नाकामियां इस बात को साबित करती हैं कि भाजपा दिल्ली की जनता को सुरक्षा एवं स्वस्थ वातावरण देने में सक्षम नहीं है। गोपाल राय ने कहा कि भाजपा नेता दिल्ली में हुई हर घटना को घुसपैठियों के साथ जोड़कर प्रस्तुत करते हैं तो वे ये बताएं कि कितने बांग्लादेशियों को हत्या, झपटमारी तथा अन्य अपराध करने के अंतर्गत इन्होंने गिरफ्तार किया है। भाजपा अगर नहीं बताती है तो यह बात साबित हो जाती है कि यह केवल एक चुनावी पैंतरा है। गोपाल राय ने कहा कि आम आदमी पार्टी इनके खिलाफ पोल खोल अभियान शुरू करेगी।

दिल्‍ली की सुरक्षा पर उठाया सवाल 

गोपाल राय ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी के साथ हुई लूटपाट की वारदात का हवाला देते हुए कहा कि अगर खुद प्रधानमंत्री की भतीजी सुरक्षित नही है, तो देश की आम जनता का क्या हाल होगा। उन्होंने कहा क्योंकि यह घटना प्रधानमंत्री के परिवार से जुड़ी थी, तो दिल्ली पुलिस ने तुरंत प्रभाव से कार्रवाई कर अपराधियों को पकड़ लिया। लेकिन धरातल की सच्चाई कुछ और ही है।

दो लाख से ज्‍यादा केस हुए दर्ज

उन्होंने इस साल सितंबर तक दिल्ली में दर्ज हुए अपराधों का उदाहरण देते हुए कहा कि इस साल सितंबर तक दिल्ली में दो लाख बारह हजार सात सौ तिहत्तर केस दर्ज किए गए। क्योंकि, ये सभी केस आम जनता से जुड़े हुए हैं इसीलिए अभी तक अधिकतर में कोई संतोषजनक कार्रवाई नहीं हुई।

आंकड़ों में गिनाए अपराध

उन्होंने दिल्ली में इस साल सितंबर तक हुई अलग-अलग वारदातों के आंकड़ों को गिनाते हुए कहा कि इस साल दिल्ली में दुष्कर्म के 1609, हत्या के 373 के केस दर्ज किए गए हैं। उन्होंने बताया कि मात्र सितंबर के महीने में ही हत्या के 40, हत्या की कोशिश के 35, लूटपाट के 130, झपटमारी के 420, दुष्कर्म के 160, छेड़छाड़ के 200, अपहरण के 450, घरों में चोरी के 150 और वाहन चोरी के 3400 केस दर्ज किए गए हैं। उन्होंने कहा कि ये सारा रिकॉर्ड दिल्ली पुलिस द्वारा दिया गया है।

दिल्‍ली वालों के लिए खुशखबरी, 17 अक्‍टूबर को रहेगी आधे दिन की छुट्टी

शिक्षकों की नियुक्ति रद होने पर दक्षिणी निगम में हंगामा, दिल्‍ली सरकार पर लगे आरोप 

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

 

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप