नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। Delhi Assembly Election 2020: आम आदमी पार्टी मुखिया अरविंद केजरीवाल (Aam Aadmi Party Chief Arvind Kejriwal) ने टिकट बंटवारे में ऐसे विधायकों के पर कतरे हैं, जिन्होंने अपनी करतूत से पार्टी को शर्मसार किया या फिर सरकार की मुसीबत बढ़ाई। इनमें एक प्रमुख नाम सुलतानपुर माजरा सीट से AAP विधायक और पूर्व मंत्री संदीप कुमार का है, जो वर्ष 2016 में अश्लील सीडी वायरल होने के बाद पूरी पार्टी के लिए मुसीबत का सबब बने थे। इस बार उनका टिकट काटकर मुकेश कुमार अहलावत को उतारा गया है। 

अगस्त-सितंबर 2016 में AAP नेता और दिल्ली सरकार में महिला और बाल विकास मंत्री संदीप कुमार का एक अश्लील वीडियो सामने आया था। इस वीडियो के सामने आने के बाद संदीप कुमार की वजह से आम आदमी पार्टी सरकार की किरकिरी हुई थी। वहीं, जांच पड़ताल के दौरान ही अरविंद केजरीवाल ने संदीप कुमार को बर्खास्त कर दिया था, लेकिन यह मामला कई महीने तक सुर्खियों में रहा था।

यह अश्लील वीडियो इस कदर सरकार के परेशानी का सबब बन गया था कि खुद अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर मंत्री पद से बर्खास्त करने की जानकारी दी। 

इसी तरह तिमारपुर से विधायक पंकज पुष्कर का टिकट बगावती रुख के कारण काटा गया है। दरअसल, AAP के विधायक पंकज पुष्कर लगातार आम आदमी पार्टी के लिए मुसीबत बनते रहे। सड़क से लेकर सदन तक सरकार की आलोचन में विपक्षी भारतीय जनता पार्टी से कहीं आगे पंकज पुष्कर रहे। यही वजह है कि पंकज पुष्कर को आम आदमी पार्टी ने इस बार टिकट नहीं दिया है। पंकज पुष्कर को यूं भी स्वराज इंडिया के संस्थापक योगेंद्र यादव के गुट का माना जाता है। वह योगेंद्र यादव को पार्टी से निकाले जाने के दौरान भी अरविंद केजरीवाल के विरोध में रहे।   

दिल्ली चुनाव से जड़ी खबरें के लिए करें क्लिक

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस