नई दिल्‍ली, एजेंसी। केंद्र सरकार के द्वारा इजाजत नहीं मिलने के कारण दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) सी-40 शिखर सम्मेलन (C40 summit) में हिस्सा लेने डेनमार्क नहीं जा सके हैं। हालांकि वह शुक्रवार को वीडियो कॉफ्रेसिंग के जरिए इसमें भाग लेंगे।

विदेश मंत्रालय से नहीं मिली मंजूरी

बता दें कि अरविंद केजरीवाल को डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में 9 अक्‍टूबर से 12 अक्टूबर तक होने वाले सम्मेलन के लिए जाना था, लेकिन विदेश मंत्रालय ने इसके लिए उन्‍हें मंजूरी नहीं दी। सम्मेलन में दुनिया के सबसे बड़े महानगरों में से एक दिल्ली के नेता के रूप में केजरीवाल को आमंत्रित किया गया था।

दिल्‍ली में वायु प्रदूषण के खिलाफ चल रहे अभियान पर होगी चर्चा

सीएम इस सम्‍मेलन में शुक्रवार को करीब 12 बजे वीडियो कॉफ्रेसिंग के जरिए भाग लेंगे। केजरीवाल दुनिया के उन 20 नेताओं में शामिल होने जा रहे हैं जो इस बात का प्रण लेंगे कि लघु व दीर्घकालिक प्रतिबद्धताओं से अपने शहर की हवा को स्वच्छ करेंगे। वीडियो कॉफ्रेसिंग के जरिए उन्‍हें इस सम्‍मेलन में भाग लेेने के लिए गुजारिश की गई जिसे उन्‍होंने सहर्ष स्‍वीकार कर लिया। अब वे वहां 'ब्रीद डीपली- सिटी सॉल्‍यूशन फॉर क्‍लीन एयर' (Breathe deeply, city solutions for clean air) के सेशन में भाग लेंगे। 

भारतीय समानुसार दोपहर में होगा कार्यक्रम

बता दें कि कोपेनहेगन में यह सुबह करीब 8:30 पर होगा जो भारतीय समयानुसार 12 बजे दोहपर में होगा। यहां वे बताएंगे कि कैसे दिल्‍ली पिछले पांच साल में वायु प्रदूषण के खिलाफ सफलता पूर्वक जंग लड़ रही है। 

दिल्‍ली के ऑड ईवन की सफलता पर होगी बात

मुख्यमंत्री के इस अनुभव को साझा करने की भी संभावना है कि दिल्ली शहर की सड़कों पर वाहनों के आवागमन को प्रतिबंधित करने के लिए ऑड-ईवन प्रयोग को सफलतापूर्वक लागू करने वाला दुनिया का पहला शहर कैसे बना, जिसके कारण दिल्ली में वायु प्रदूषण में कमी आई। दिल्ली में ऑड-ईवन प्रयोग दिल्ली सरकार की कल्पना से परे एक अभूतपूर्व सफलता थी, और इसे सभी लोगों ने खुले दिल से अपनाया।

चतुर्वेद महायज्ञ: संघ प्रमुख मोहन भागवत-अमित शाह समेत कई बड़ी हस्‍तियां होंगी शामिल

श्री अकाल तख्त ने दिया DSGPC को झटका, दिल्ली से सिर्फ एक नगर कीर्तन जाएगा पाकिस्तान

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप