जगदलपुर। विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए छत्तीसगढ़ पहुंचे पीएम मोदी ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। पीएम ने सीधे तौर पर कांग्रेस पर अर्बन नक्सलियों को समर्थन देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं को जवाब देना चाहिए कि जब सरकार अर्बन नक्सलियों पर कार्रवाई करती है तो वे उनका बचाव क्यों करते हैं? उन्होंने कहा कि जंगलों से दूर शहरों में बैठे ये अमीर लोग (अर्बन नक्सल) रिमोट कंट्रोल से आदिवासियों की जिंदगी को तबाह कर रहे हैं। उन्होंने सवाल पूछते हुए कहा कि आपकी जिंदगी बर्बाद करने वालों को क्या आप माफ करोगे?

छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ी भाषा में लोगों का अभिवादन किया। इस दौरान उन्होने मां दंतेश्वरी का स्मरण करते हुए जनता की सुख समृदि्ध की कामना की। उन्होंने कहा कि जन आकांक्षाओं के अनुरूप भाजपा सरकार ने यहां योजनाएं लागू की। बस्तर को आने वाले समय में पूरी तरह समृद्ध और खुशहाल बनाना है। यह हमारा दायित्व है कि हम अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह करते हुए देश के सबसे पिछड़े इलाके को विकसित क्षेत्र की श्रेणी में ला सकें। बिना भेदभाव के विकास का रास्ता बनाना ही भाजपा सरकार का लक्ष्य है। मेरे-तेरे का खेल अब देश के अंदर कोई स्वीकार करने वाला नहीं है।

डॉ रमन सिंह की कर्मठता देखकर लोगों को आश्चर्य होता है। सरकार तो पहले भी होती थी, लेकिन विकास के इतने काम नहीं होते थे। योजनाएं पहले भी थीं, पैसे पहले भी थे, लेकिन कारोबार बिचौलियों के हाथों से होता था। भाजपा ने इन बिचौलियों को खत्म किया और हम विकास के मंत्र को लेकर ही काम करते रहेंगे। बस्तर में जिन बच्चों के हाथ में कलम होनी चाहिए, उनके हाथ में ये राक्षसी माओवादी बंदूक थमा रहे हैं। उनके सपनों को आग लगा रहे हैं। माओवादियों को खत्म करने का बीड़ा हमारी सरकार ने उठाया है, ताकि बस्तर में समृदि्ध और शांति कायम हो सके। कांग्रेस इन अर्बन माओवादियों की वकालत कर रही है।

सरकार यदि इनके विरुद्ध काम करे तो वे मानव अधिकार की बात करते हैं। फिर उनके बड़े नेता यहां आकर माओवाद के बारे में गोलमोल बातें कर जनता को भ्रमित करते हैं। कांग्रेस की यह नीति सर्वथा गलत है। जनता को यह बात समझनी चाहिए। हमें जनता की सेवा करना है। अटल जी के सपने को पूरा करना है। इसी संकल्प को दोहराने के लिए मैं बार-बार यहां आता हूं। जब तक अटल जी के सपने को पूरा नहीं करूंगा, मैं चैन से नहीं बैठूंगा।

केंद्र और राज्य आज मिलकर काम कर रहे हैं। पिछले 10 साल दिल्ली में कांग्रेस की जो सरकार बैठी थी, उसने लगातार डॉ रमन सिंह की विकास वादी सोच को धरासायी करने की कोशिश की, लेकिन रमन अपनी विकास की सोच के साथ अटल रहे। इसी का नतीजा है कि यहां सतत विकास होता रहा। आज स्थिति विकास के लिए पूरी तरह अनुकूल बनी है। अब सरकार ने यहां विकास के लिए पूरी ताकत झोंक दी है।

मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने इस मौके पर कहा कि, कांग्रेस ने सिर्फ गरीबी हटाओ का नारा लगाया। हमने गरीबी को हटाकर दिखाया। आज प्रदेश में कोई भी व्यक्ति रात में भूखा नहीं सोता। यह भाजपा के सुशासन का ही असर है। बस्तर के आदिवासी इलाके में तेजी के साथ ग्रामीणों को जमीन के पट्टे दिए जा रहे हैं। गांव-गांव में सड़क का जाल बिछाकर स्वास्थ्य और शिक्षा की बुनियादी सुविधाओं का विकास किया जा रहा है। राज्य के अंतिम दक्षिणी छोर तक हाइवे के विकास का काम किया गया है।

जगदलपुर में मेडिकल कॉलेज, सुपरस्पेशिलिटी हॉस्पिटल की स्थापना की गई। कांग्रेस इस तरह के विकास के बारे में सोच भी नहीं सकती। यह तो विकास की शुरूआत है। मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि राज्य में फिर से भाजपा की सरकार बनी तो आगामी 5 वर्षों में 4 गुना तेजी के साथ बस्तर का विकास होगा। जनसभा के दौरान बस्तर क्षेत्र की सभी 12 सीटों से भाजपा उम्मीदवार और पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद रहे।

Posted By: Prashant Pandey