रायपुर। कांग्रेस ने गुरुवार को छत्तीसगढ़ चुनाव के लिए 19 सीटों पर प्रत्याशियों की अंतिम सूची जारी कर दी। कोटा सीट से विधायक रेणु जोगी को कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया है। जबकि एक सीट दुर्ग ग्रामीण पर पहले घोषित प्रत्याशी को बदलकर सांसद ताम्रध्वज साहू पर दांव लगाया है।

हालांकि जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने दावा किया कि कोटा से रेणु जोगी उम्मीदवार होंगी पर रेणु जोगी ने कहा अभी थोड़ा इंतजार करें। अब रेणु के निर्णय पर लोगों की निगाह टिक गई है।

जोगी परिवार से आती खबरों पर सभी की निगाह
गुरुवार दिन भर जोगी परिवार से आती खबरों को लेकर लोग ऊहापोह में रहे। कांग्रेस प्रत्याशियों की अंतिम सूची की घोषणा से पहले ही रेणु जोगी के पति व जकांछ सुप्रीमो अजीत जोगी की ओर से पार्टी का अधिकृत बयान आया कि रेणु ने जकांछ की सदस्यता ले ली है, उन्हें कोटा सीट से जकांछ प्रत्याशी बनाया जा रहा है। इधर रेणु जोगी अंत समय तक कांग्रेस की सूची का इंतजार करती रहीं।

इस दौरान उन्होंने किसी से कुछ भी ऐसा नहीं बोला जिससे उनका स्पष्ट हो सके। अलबत्ता कांग्रेस की सूची आने और उनका नाम सूची से गायब रहने पर उन्होंने पहला बयान यही दिया कि अभी हम कार्यकर्ताओं से बात कर रहे हैं। इसके बाद ही कुछ बता पाने की स्थिति होगी। देर शाम रेणु जोगी ने नईदुनिया को बताया कि वह शुक्रवार सुबह ही निर्णय लेंगी कि उन्हें क्या करना है। रेणु जोगी ने कहा वेट एंड वाच।

सोनिया को लिखा पत्र
रेणु ने कहा कि कांग्रेस से उनको टिकट न मिलने के पीछे न तो भूपेश बघेल जिम्मेदार हैं न ही पीएल पुनिया। अब टिकट तय करने के पार्टी के फार्मूले बदल गए हैं। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी को पत्र लिखकर अपनी व्यथा बता दी है। पत्र में रेणु ने कहा है कि जब उनके पति ने नई पार्टी बनाई तो उन्होंने पारिवारिक रिश्तों को दरकिनार किया और कांग्रेस के साथ पूरी जिम्मेदारी से खड़ी रहीं। सच जिंदा रहे, इसलिए वह चुनाव जरूर लड़ेंगे। दलीय प्रत्याशी के रूप में या निर्दल, इसका निर्णय शुक्रवार को होगा।

 

Posted By: Hemant Upadhyay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप