रायपुर [नईदुनिया]। छत्तीसगढ़ की सियासत गरमाने वाली वायरल सीडी को लेकर कांग्रेस के बड़े नेताओं के बीच दरार गहराती जा रही है। वीडियो सीडी लेन-देन की कथित बातचीत की है, जिसमें मध्यस्त पप्पू फरिश्ता बोल रहा है- पुनिया. ले लो, पुनिया तैयार हैं, एकदम। इस पर कथित तौर पर प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल कह रहे हैं, ठीक है। यह वीडियो पार्टी हाईकमान तक पहुंच चुका है।

सूत्रों के अनुसार इस कारण केवल प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ही नहीं, हाईकमान भी प्रदेश अध्यक्ष से नाराज है। सूत्रों का यह भी कहना है कि स्टिंग का वीडियो वायरल होने के बाद पुनिया और बघेल के बीच बातचीत नहीं हो रही है।

पुनिया और बघेल ने मिलकर जिस तरह से पार्टी के दूसरे वरिष्ठ नेताओं को एकजुट किया और संगठन को बूथ स्तर तक लेकर गए, उससे इस जोड़ी की रणनीति से विपक्षी दल आशंकित होने लगे थे। स्टिंग का वीडियो वायरल होने के बाद विरोधी दलों को न केवल राहत मिली है बल्कि हमलावर होने का एक और मौका मिल गया है। इधर, कांग्रेस नेताओं को आशंका है कि अभी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर वीडियो और सीडी जैसे हमले जारी रहेंगे। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि इससे विचलित नहीं होना है, चुनावी रणनीति के तहत मैदान में काम करना है।

सीडी के नफा-नुकसान का आकलन
कांग्रेस सूत्रों के अनुसार छत्तीसगढ़ की राजनीतिक गतिविधियों की जानकारी पुनिया अब पीसीसी अध्यक्ष से नहीं ले रहे हैं। वह सीडी के नफा-नुकसान पर ही बातचीत कर रहे हैं। अभी वे न तो चुनावी रणनीति पर कोई बात कर रहे हैं और न ही प्रत्याशी चयन पर।

स्टिंग वीडियो में बीएम कौन, उठ रहे सवाल
वायरल वीडियो में स्टिंग करने वाला शख्स फिरोज सिद्दीकी और मीडियेटर पप्पू फरिश्ता किसी बीएम का जिक्र कर रहे हैं। उसके बाद फरिश्ता बीएम को कॉल भी करता है। उनसे से पूछता है कि वे कहां हैं? इसके बाद ही फरिश्ता ने पीपीसी अध्यक्ष को कॉल किया। बीएम कौन हो सकता है, कांग्रेस यह पता लगाने में जुटी है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021