कांकेर, जेएनएन। हम छल प्रपंच की नहीं विकास की राजनीति करते हैं। मैं इस मंच से कह रहा हूं कि हम आगामी विधानसभा के लिए छत्तीसगढ़ में डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में और केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने जा रहे हैं। राहुल गांधी बताएं कि वे इनके सामने किनका चेहरा रखकर चुनाव लड़ेंगे। यह बातें शुक्रवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने छत्तीसगढ़ के कांकेर में आयोजित वनवासी सम्मेलन में जनसभा को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने यहां अटल विकास यात्रा में शामिल होकर तेंदुपत्ता संग्राहकों को बोनस का वितरण किया।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शुक्रवार को दोपहर सवा बारह बजे रायपुर के स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पहुंचे। यहां एयरपोर्ट पर प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष धरम लाल कौशिक, मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, सांसद रमेश बैस, विधायक श्रीचंद सुंदरानी सहित अन्य भाजपा नेताओं ने उनका आत्मीय स्वागत किया। इसके बाद वे सीधे कांकेर जिले के नरहरपुर पहुंचे, जहां जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने राहुल गांधी को जमकर कोसा।

उन्होंने कहा कि अटल जी ने देश के आदिवासी बाहुल्य के इस हिस्से को छत्तीसगढ़ राज्य के रूप में मान्यता दी और यहां डॉ. रमन के नेतृत्व में लगातार इस राज्य का विकास हो रहा है। यहां आदिवासियों का जीवन स्तर लगातार बेहतर हो रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आज के समय में एक नेतृत्वहीन पार्टी है। यह अपने मार्ग से भटक चुकी है और इसका अस्तित्व कमजोर हो चुका है।

मिशन 65 प्लस की रणनीति
प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए मिशन 65 प्लस के तहत अमित शाह ने 65 से अधिक सीटें जीतने का लक्ष्य तय किया है। इसी लक्ष्य की रणनीति तय करने के लिए अमित शाह यहां पहुंचे हैं। कांकेर से वे शाम को भिलाई पहुंचेंगे जहां वे महिला सम्मेलन को संबोधित करेंगे। यहां भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डे सम्मेलन की तैयारियों में जुटी हैं।

Posted By: Arti Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस