रायपुर,  नईदुनियाछत्तीसगढ़ में टिकट के दावेदारों के पैनल से भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 17 नामों को रिजेक्ट कर दिया है। दिल्ली में सूबे के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडेय व राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री सौदान सिंह की अमित शाह के साथ बैठक हुई। इसमें विधानसभा वार जीतने वाले प्रत्याशियों की जानकारी दी गई।

किस विधानसभा में कौन सा प्रत्याशी मजबूत होगा? प्रत्याशियों के चुनाव जीतने के क्या समीकरण होंगे? जीत की कितनी संभावना है? इन तमाम पहलुओं पर करीब दो घंटे तक चर्चा हुई। सूत्र बताते हैं कि इस दौरान हुई चर्चा से साफ है कि भाजपा के 20 विधायकों का टिकट खतरे में है।

 भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों की मानें तो अमित शाह ने भी अपनी 90 विधानसभा की सर्वे रिपोर्ट की जानकारी प्रदेश के नेताओं को दी। शाह के सर्वे के पैनल में शामिल 17 नामों को कमजोर पाया था, जिसे आधार बनाते हुए इनकी दावेदारी रद की गई।

बताया जा रहा है कि प्रदेश चुनाव समिति के पैनल में जिन दावेदारों का दूसरे और तीसरे स्थान पर नाम था, शाह की सर्वे सूची में वे जीतने के लिए सबसे मजबूत माने गए। यही कारण है कि कुछ नामों को पहले स्थान पर शामिल भी कराया गया। भाजपा के आला नेताओं ने बताया कि अब तक की बैठकों के बाद यह बात सामने आ रही है कि 20 से ज्यादा विधायकों का टिकट कट सकता है।

आज घोषित होंगे उम्मीदवार
केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के पहले प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। चुनाव समिति की बैठक में सिर्फ प्रत्याशियों के नामों को रखकर औपचारिकता पूरी की जाएगी। समिति की मुहर लगने के बाद शनिवार को प्रत्याशियों के नामों घोषणा की जाएगी। पहले चरण में करीब 70 विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार की घोषणा होगी।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस