दरभंगा, जेएनएन। गौड़ाबौराम विधानसभा 2010 के परिसीमन में अस्तित्व में आई । जब से इसका अस्तित्व है तब से यहां हर बार नए खेल दिखते हैं। लगाता दो बार यहां से जदयू ने जीत दर्ज की है। इस बार की जंग तीसरी है। यहां के विधायक व बिहार सरकार के मंत्री मदन सहनी का क्षेत्र बदल गया है। वे बहादुरपुर चले गए हैं और एनडीए ने यहां से वीआइपी के टिकट पर महिला प्रत्याशी स्वर्णा सिंह को मैदान में उतार दिया है। पहली बार यहां महिला को टिकट मिला है। इस बार यह सीट वीआइपी के खाते में है। 

 महागठबंधन ने यहां से अफजल अली खान को चुनावी मैदान में उतारा है। वहीं भाजपा से बागी राजीव ठाकुर लोजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। यह सीट इस बार इस कारण से भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यहां वीआइपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी का घर है। चूंकि यह विधानसभा उनका गृह क्षेत्र है। ऐसे में सभी लोग अपनी राजनीतिक साख बचाने की कोशिश में हैं। ऊपर से बागी और निर्दलीय खेल बिगाडऩे की तैयारी में। कुल मिलाकर राजनीति किस करवट बैठेगी यह तो वक्त तय करेगा। लेकिन, इस बार मुकेश के घर में उनकी राजनीति की परीक्षा हो रही है। यहां 53.8 फीसद लोगों ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। 

प्रमुख मुद्दे 

1. सड़कें आधी-अधूरी : विकास की तमाम कोशिशों के बीच इस विधानसभा क्षेत्र की अधिकांश सड़के हिचकोले देती हैं। टूटी सड़क और उसमें कई जगहों पर बन आए गड्ढे लोगों को परेशान करते हैं। कई बात तो हादसे हो जाते हैं। 

2. खेतों की सिंचाई : इस इलाके में किसान सिंचाई के साधनों के लिए परेशान रहते हैं। यहां के लोगों को बाढ़ का कहर इस कदर झेलना होता है कि पलायन करना पड़ता है। रोजगार और खेतोंं की सिंचाई बड़ी समस्या।

24 प्रत्याशी मैदान में 

इस बार यहां मुख्य मुकाबला वीआइपी की स्वर्णा सिंह एवं राजद के अफजल अली खान के बीच है। हालांकि यहां लोजपा के प्रत्याशी राजीव कुमार ठाकुर व निर्दलीय पूर्व विधायक डा. इजहार अहमद त्रिकोण बना रहे हैं। कुल 24 उम्मीदवार चुनावी मैदान है।

1. स्वर्णा सिंह (वीआइपी)

2. अफजल अली खान (राजद)

3. डा. इजहार अहमद (निर्दलीय)

4. राजीव कुमार ठाकुर (लोजपा)

5. रणधीर कुमार (निर्दलीय)

6. ख्वाजा मो. फखरूद्दीन (भारतीय राष्ट्रीय दल)

7. शुभकांत सदा (राष्ट्रीय जन कल्याण पार्टी)

8. कुंदन प्रसाद साह (आम जनमत पार्टी)

9. रंजीत सहनी (बहुजन मुक्ति पार्टी)

10. संजय कुमार यादव (निर्दलीय)

11. कमलेश राय (द प्लूरल्स पार्टी)

12. रजनी महतो (निर्दलीय)

13. गौरव कुमार सिंह (निर्दलीय)

14. रमेश कुमार पंडित (जनता दल सेक्यूलर)

15. मो. इसराफिल (निर्दलीय)

16. तमन्ना खान (एनसीपी)

17. चंदन कुमार मिश्रा (निर्दलीय)

18. विश्वंभर यादव (जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक)

19. राहुल कुमार झा (निर्दलीय)

20. बैजू साहू (वाजिब अधिकार पार्टी)

21. सत्य नारायण पासवान (मजदूर एकता पार्टी)

22. अजय यादव (निर्दलीय)

23. सरोज कुमार चौधरी (मिथिलांचल मुक्ति मोर्चा)

24. श्याम सदा (निर्दलीय)

अबतक के विधायक 

2010- डॉ. इजहार अहमद (जेडीयू)

2015- मदन सहनी (जेडीयू)

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस