दरभंगा, जेएनएन। Bihar Elections 2020: शहर और गांव दोनों के स्वाद संग विकास और प्राकृतिक आपदा से सुरक्षा की बेचैनी लिए दरभंगा की ग्रामीण (दरभंगा ग्रामीण) विधानसभा एक बार फिर अपना रहनुमा चुनने को तैयार है। इस बार यह सीट राजनीति का ट्विस्ट भी दिखाएगी। यहां से चुनावी मैदान में एनडीए ने राजद छोड़कर जदयू में आए केवटी के विधायक डॉ. फराज फातमी को मैदान में उतारा। 

महागठबंधन ने इस सीट पर 2010 से लगातार जीत रहे राजद विधायक ललित कुमार यादव को ही अपना उम्मीदवार बनाया। दिलचस्प यह कि पिछले चुनाव में डॉ. फराज और ललित दोनों एक ही दल में थे। एक केवटी के विधायक थे तो एक दरभंगा ग्रामीण के। लेकिन, इस बार डॉ. फराज ने दल और क्षेत्र दोनों ही बदल दिया। ऐसे में दो पुराने राजनीतिक दोस्त आमने-सामने हैं। यहां 53.2 फीसद लोगों ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। 

मुद्दों की मुनादी और जातीय राजनीति के बीच द्वंद्व

वर्ष 2010 के परीसीमन में मनिगाछी विधानसभा विलोपित हो गई। जातीय राजनीति की बात करें तो इस क्षेत्र में मुसलमान, यादव और ब्राह्मण निर्णायक की भूमिका में होते हैं। वहीं अन्य जातियों का भी दबदबा इलाके में है। ऐसे में दोनों ही गठबंधनों से प्रत्याशी एमवाई समीकरण व अन्य को साधने की राजनीति के तहत उतारे गए।

दरभंगा ग्रामीण के प्रमुख प्रत्याशी 

एनडीए : फराज फातमी (जदयू)

महागठबंधन : ललित कुमार यादव (राजद)

लोजपा : प्रदीप कुमार ठाकुर

अबतक के विधायक

1977- जगदीश चौधरी (जनता पार्टी)

1980- जगदीश चौधरी (जनता पार्टी-एस)

1985- रामचंद्र पासवान (कांग्रेस)

1990- जगदीश चौधरी (जनता दल)

1995- मोहन राम (जनता दल)

2000- पीतांबर पासवान (राजद)

2005- पीतांबर पासवान (राजद-दोनों चुनाव)

2010- ललित कुमार यादव (राजद)

2015- ललित कुमार यादव (राजद)

विधानसभा- दरभंगा गामीण

कुल वोटर- 290437

पुरुष - 154331

महिला - 136104

अन्य- 02

2005 से 2015 तक के विधायक

2005

विनर : पीतांबर पासवान (राजद)- 31258

रनर : रामचंद्र पासवान (जदयू) - 20864

2010

विनर : ललित कुमार यादव (राजद)- 29776

रनर : अशरफ हुसैन (जदयू) - 26100

2015

विनर : ललित कुमार यादव (राजद)- 70557

रनर : नौशाद अहमद (हम)- 36066

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस