रोहतास। गुरुवार को हुए विधानसभा चुनाव भले ही काराकाट विधानसभा मतदान प्रतिशत में अन्य विधानसभा क्षेत्रों से पिछड़ गया हो, जो चिताजनक भी है। लेकिन काराकाट विधानसभा क्षेत्र के मात्र छह पंचायतों वाले छोटे से संझौली प्रखंड अन्य प्रखंडों के मतदान प्रतिशत में अव्वल रहा है। संझौली प्रखंड का मतदान प्रतिशत 52 है। बीडीओ कुमुद रंजन द्वारा इसकी रिपोर्ट भी भेज दी गई है। उन्होंने बताया कि अंतिम रिपोर्ट तक प्रतिशत बढ़ भी सकता है। बता दें कि काराकाट विधानसभा क्षेत्र में तीन प्रखंड है। जिसमें संझौली के अलावे बिक्रमगंज और काराकाट भी शामिल है। बिक्रमगंज का मतदान प्रतिशत 51.88 है जबकि काराकाट का मतदान प्रतिशत काराकाट बीडीओ द्वारा 50 फीसद से अधिक बताई जा रही है। अधिकारियों की माने तो अंतिम रिपोर्ट तक संझौली 53 फीसद तक पहुंच सकता है। 2010 के विधानसभा चुनाव में भी संझौली प्रखंड के लोगों ने 52.89 प्रतिशत मतदान किया था , तब काराकाट विधानसभा का प्रतिशत 48.80 था। 2015 के विधानसभा चुनाव में भी मतदान प्रतिशत गिरा था। लेकिन इस विधानसभा चुनाव में लोगों के कम उत्साह के बावजूद भी काराकाट विधानसभा क्षेत्र में प्रतिशत में अव्वल रहा। 1994 में गठित संझौली प्रखंड भले ही छह पंचायतों का है , लेकिन यहां के लोगों ने अधिकारियों के साथ मिलकर एक से एक उपलब्धि हासिल की। इस बार के विधानसभा चुनाव में महिला वोटरों की संख्या भी अन्य प्रखंडों की अपेक्षा सबसे अधिक जोड़ी गई। बूथों पर भी पुरुषों के अपेक्षा महिलाओं ने अधिक मतदान किया। बीडीओ कुमुद रंजन की माने तो मतदान में लोगों का सकारात्मक सहयोग मिला, जिसका परिणाम है कि अन्य प्रखंडों से यहां का प्रतिशत बेहतर है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस