छपरा। चुनाव कार्य में लापरवाही बरतते हुए ट्रेनिग से गायब रहने वाले कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज होगी। इस संबंध में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने बुधवार को पत्र जारी करते हुए इन विभाग के विभाग के नियंत्री पदाधिकारी को प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया है।

12 अक्टूबर को डीएम ने निर्वाचन प्रशिक्षण कार्य में अनुपस्थित रहने वाले गश्तीदल, दंडाधिकारी एवं माइक्रो ऑब्जर्वर के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनके विभाग के नियंत्री पदाधिकारी को निर्देश दिया था कि संबंधित कर्मियों से स्पष्टीकरण प्राप्त करते हुए अपने मंतव्य के साथ सूचित करें। समय पर स्पष्टीकरण का जबाब नहीं देने वालों के विरुद्ध लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कराते हुए इसकी भी सूचना उपलब्ध कराने को कहा है। जिसमें नौ विभागों के 44 कर्मियों से शो कॉज किया गया था।

इसमें 18 लोगों के स्पष्टीकरण को स्वीकार कर 26 पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया गया है। गश्तीदल दंडाधिकारी एवं माइक्रो ऑब्जर्वर के लिए ट्रेनिग 30 सितम्बर एवं एक अक्टूबर को निर्धारित थी। इसके लिए नियुक्ति पत्र की तामिला करा दी गई थी एवं सूचना एसएमएस के माध्यम से भी दे दी गई थी। इन कर्मियों पर दर्ज होगी प्राथमिकी :

* शिक्षा विभाग :

सीता राम दास, राम लखन यादव, प्रदीप सिंह, अरुण कुमार सिंह, महेन्द्र प्रसाद दिनेश कुमार सिंह, राजेन्द्र राय, योगेन्द्र प्र यादव, रविन्द्र नाथ ठाकुर, शुभनारायण मिश्रा, कृष्ण कुमार माँझी, शुभनारायण प्रसाद,रामेश्वर मांझी, ब्रजेश कुमार सिंह, रामेश्वर ओझा, वशीम अहदम, प्रद्युमन सिंह चौहान, सुधीर चौधरी, सुरेद्र प्रसाद, अरविद्र कुमार सिंह, सुशील कुमार सिंह

प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, मढौरा :

राम कुमार चौधरी,गौरव राठौर *कार्य. अभि. ग्रा. प्र. सोनपुर :

बलिराम सिंह, विजय कुमार

डीएम ने किया सामग्री कोषांग का किया निरीक्षण

जासं, छपरा : छपरा नगर निगम स्थित सामग्री कोषांग का बुधवार को जिलानिर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने निरीक्षण किया। इस दौरान डीएम ने नोडल पदाधिकारी एवं कर्मियों को कई आवश्यक निर्देश दिया। सामग्री की तैयारी के संबंध में पूरी जानकारी भी प्राप्त की। सारण के 10 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान के दिन कर्मियों को चुनाव एवं कोविड प्रोटॉकोल के तहत मिलने वाली सामग्री की तैयारी अभी से शुरू हो गया है। इस बार कर्मियों को कोविड -19 से सुरक्षा के लिए मास्क, हैंड सैनिटाइजर, पीपीई किट भी दिया जा रहा है। जिसके लिए कोविड किट भी बनाया जा रहा है। इसकी तैयारियों की निगरानी जिला प्रशासन ने शुरू कर दिया है। निरीक्षण में डीएम के अलावा अपर समहर्ता डॉ. गगन समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस