सुपौल। प्रखंड क्षेत्र के सिमराही बाजार में जलजमाव होने के कारण यहां के लोगों की परेशानी काफी बढ़ गई है। बाजार में एनएच 106 के दोनों किनारे नाला नहीं रहने के कारण यहां बारिश का पानी लग जाने से बाजार पूरा गड्ढे में तब्दील हो गया है, जिस कारण यहां के लोगों का जीना मुहाल हो गया है। यह बाजार इस इलाके का एक प्रमुख बाजार है जिसको लेकर यहां पर लोगों की काफी भीड़ रहती है। साथ ही यहां से दो-दो एनएच 106 और एक्सप्रेस हाइवे 57 गुजरती है। जिस कारण यहां हर रोज सैकड़ों छोटी-बड़ी गाड़ियां गुजरती है। जिससे पानी के जमाव के कारण जगह-जगह सड़क टूट गई है। सात वर्ष पूर्व जब मुख्यमंत्री सिमराही आए थे तो उस समय नाला निर्माण का काम शुरू किया गया था जो आजतक पूर्ण नहीं हो पाया है।

---------------------

स्कूली बच्चों को होती परेशानी

जगह-जगह जलजमाव के कारण सड़क टूट जाने से दो पहिया गाड़ी चालक को भी भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। साथ ही पैदल चलने वाले राहगीरों के साथ स्कूली बच्चों को इस कीचड़नुमा सड़क पर चलने में काफी परेशानी होती है। सड़क टूटी होने के कारण स्कूली बच्चे गिरकर घायल हो जाते हैं। जिसके चलते अभिभावक अपने बच्चे को स्कूल भेजने से कतराते हैं।

-------------------

क्या कहते हैं स्थानीय लोग

सड़क के दोनों तरफ बसे व्यवसायी काशी गुप्ता, बिदा प्रसाद गुप्ता, विकास आनंद, राधेश्याम भगत, मो. सलाउद्दीन, चांद अग्रवाल, मंटू चांद, संतोष स्वर्णकार, अनिल महतो, नीरज गुप्ता, गोपाल चांद, मनोज मिश्रा, विनोदनंद कुमार आदि लोग कहते है कि नाला नहीं रहने के कारण जल निकासी नहीं हो पाती है। इससे सड़कों पर भी जल जमाव हो जाता है। व्यवसायियों का कहना है कि जलजमाव के कारण हमलोगों के व्यवसाय पर बुरा असर पड़ा है। ग्राहक दुकान तक आने से कतराते हैं। जब तक सड़क के दोनों किनारे नाले का निर्माण नहीं होगा तब तक इसका कोई निदान नहीं होने वाला है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस