भागलपुर। कहलगांव विधानसभा के मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे से लेकर आठ बजे तक मतदाताओं की संख्या कम रही। आठ बजे के बाद भीड़ बढ़ने लगी और दो बजे के बाद कई मतदान केंद्र मतदाताओं से खाली हो गए।

अगरपुर बूथ संख्या 18ए पर सात बजे तक किसी भी पार्टी का कोई एजेंट नहीं आया था। बूथ पर पीठासीन पदाधिकारी द्वारा ईवीएम मशीन से मॉक पोल किया जा रहा था। करीब सवा सात बजे से धीरे-धीरे मतदाता आने लगे। यही स्थिति बूथ संख्या 19 की भी रही। यहां दिव्यांग को मत दिलाने के लिए ट्राई सायकिल की व्यवस्था की गई थी। गोव‌र्द्धनपुर बूथ संख्या 17 पर आठ बजे मतदाताओं की संख्या बढ़ गई। महिला और पुरुष मतदाताओं की लंबी लाइन लग गई थी। कई ऐसे भी मतदाता थे जो दातुन करते हुए मत देने आए थे। आठ बजे तक 15 वोट डाले जा चुके थे। करीब साढ़े आठ बजे माधोपुर बूथ संख्या 14 पर 21 लोग वोट दिए थे, यहां मतदाताओं की लाइन भी लग गई थी। वहीं खुटहा के बूथ संख्या 23 पर सुबह 9.17 बजे 68 वोट दिए गए थे। यहां क ईवीएम मशीन खराब होने पर मतदाताओं को एक घंटा से ज्यादा देर तक इंतजार करना पड़ा। गलहोतिया बूथ संख्या 26, 26 ए और 27 पर 10.10 बजे 20 फीसद वोट डाले गए थे। वहीं 11 बजे गोराडीह बूथ संख्या 57, 57 ए पर 182 वोट डाले गए थे। करीब 12 बजे रमासी बूथ संख्या 281, 282 में 50 फीसद वोट दिए गए थे।

दो बजे के बाद बूथों पर मतदाताओं की संख्या में कमी आ गई। सन्हौला आदर्श मतदान केंद्र 299ए और 299 में 2.30 बजे बजे मतदाताओं से खाली हो गया था। दोनों मतदान केद्रों पर 1320 मतदाता हैं, तीन बजे तक 621 मतदान किए गए। सन्हौला के मतदान केंद्र 3 बजे मतदाताओं से खाली था। यहां 1009 मतदाताओं में केवल 313 मतदाताओं ने वोट डाले थे। मतदान केंद्रों में पूरी तरह शांति थी। ना कोई हंगामा और न किसी तरह वोट डालने में मतदाताओं को परेशानी ही हुई। शांतिपूर्ण मतदान कम ही देखने के लिए मिलते हैं। जिन लोगों को मत नहीं डालने थे उन्हें मतदान केद्रों के समीप फटकने नहीं दिया जाता था। लोग भी जाने से परहेज करते थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस