जमुई, जेएनएन। लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह जमुई सांसद चिराग पासवान ने रोड शो करने के बाद गुरुवार को सिकंदरा हाई स्कूल मैदान में एक चुनावी सभा को संबोधित किया। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जितना भ्रष्टाचार सात निश्चय योजना में हुआ है, उतना भ्रष्टाचार और कहीं नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि यदि लोजपा के समर्थन की सरकार बनती है तो सात निश्चय योजनाओं की जांच कराई जाएगी।

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान बिहारियों को बिहार की सीमा में घुसने नहीं दिया जाता था। दिल्ली-मुंबई से विकास का मापदंड देखना चाहिए जहां आइटी सेक्टर, मेट्रो और मल्टीप्लेक्स की बात होती है। बिहार में आज भी घर के सामने नाली बनाने की बात तक ही विकास अटका हुआ है। उनके अनुसार नीतीश कुमार कहते हैं कि बिहार में समुद्र नहीं है, इस कारण कारखाने नहीं खुल सकते हैं। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान या मध्य प्रदेश में कोई समुद्र नहीं है। इसके बाद भी वहां हजारों कारखाने खुले हुए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की सोच युवा विरोधी है। यहां युवाओं को अच्छी शिक्षा नहीं दी जा रही है।

बिहार के विकास के लिए न नियत साफ है और न नीति : प्रिंस राज

बांका। बिहार के विकास के लिए न नियत साफ है, न नीति है । युवा रोजगार के अन्य राज्यों को पलायन कर रहे हैं । इसलिए बिहार फस्र्ट बिहारी फस्र्ट के माध्यम से बिहार की खोई हुई अस्मिता को वापस लाने के लिए लोजपा कृत्संकल्पित है । उक्त बातें लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह समस्तीपुर के सांसद ङ्क्षप्रस राज ने गुरुवार को सिहुड़ी मोड़ स्थित बलूआ मैदान में लोजपा उम्मीदवार डा. मृणाल शेखर के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहीं।

उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विकास की सोच पर हमला किया। कहा कि अन्य प्रांत आईआईटी, एम्स, आईटी हब बनाने की सोच रहे हैं , लेकिन यहां अभी तक गली-नली तक ही विकास अटका हुआ है । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पूर्व की पति-पत्नी की सरकार बोल कर कोसते रहते हैं पर नीतीश बतायें कि उन्होंने सिर्फ पांच वर्षो में बिहार में रोजगार ,शिक्षा, स्वास्थ्य, बाढ सुखाड़ आदि के लिए क्या कार्य किए। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सूरजभान ङ्क्षसह ने लोजपा प्रत्याशी डा. मृणाल शेखर को जीत दिलाने की अपील की। वहीं डा. मृणाल शेखर ने कहा कि आज उनपर विभिन्न राजनितिक दल के नेता तरह-तरह के आक्षेप लगाते हैं । लेकिन उन्हें बताना चाहते हैं कि ङ्क्षजदा कौम पांच वर्षो तक इंतजार नहीं करता है । जदयू वंशवाद के कारण अमरपुर के विकास को दस वर्ष पीछे धकेल दिया है । उन्होंने उपस्थित लोगों से समर्थन देने की अपील की। मृत्युंजय शर्मा, पूर्व मुखिया रामकिशोर ईश्वर रूवेश कुमर, प्रदीप गांय, सुरेंद्र शर्मा सहित थे।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस