पटना, जेएनएन। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 (Bihar assembly election 2020) के तीसरे चरण का मतदान खत्‍म होते ही एक्जिट पोल (Exit Poll) के नतीजे आ गये हैं। तमाम सर्वे में राष्‍ट्रीय जनता दल यानी राजद (RJD) सबसे बड़ा दल बनकर सामने आया है। राजद की अगुवाई वाले महागठबंधन को कम से कम 108 और अधिकतम 138 सीटें मिलती दिख रही हैं। टुडेज चाणक्‍या ने तो महागठबंधन को 180 सीटें दे दी हैं।

रिपब्लिक और न्‍यूज 24 ने दी सर्वाधिक सीटें

महागठबंधन को रिपब्लिक और न्‍यूज 24 ने सर्वाधिक सीटें दी हैं। इन दोनों सर्वे के मुताबिक महागठबंधन को 118 से 138 सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं। टाइम्‍स नेटवर्क और इंडिया टीवी ने महागठबंधन को 120 सीटें दी हैं। एबीपी-सी वोटर के सर्वे में इन्‍हें 108 से 131 सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं। महागठबंधन को सबसे कम सीटें भास्‍कर के एक्जिट पोल में मिली हैं। इस सर्वे में महागठबंधन को महज 71 से 81 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है। जन की बात ने महागठबंधन को 118 से 138 सीटें मिलने का अनुमान जताया है।

तो 20 साल बाद देखने को मिलेगी राजद की लहर

तमाम सर्वे के दावे अगर सच साबित होते हैं तो राज्‍य में 20 साल बाद राजद की लहर लौट रही है। आखिरी बार राजद की अगुवाई वाली सरकार का नेतृत्‍व लालू यादव और उनके बाद उनकी पत्‍नी राबड़ी देवी ने भी किया था। इस बार इनके बेटे तेजस्‍वी महागठबंधन की ओर से मुख्‍यमंत्री पद के उम्‍मीदवार हैं।

मिथिलांचल से लेकर सीमांचल तक महागठबंधन आगे

आजतक-एक्सिस माइ इंडिया के सर्वे के मुताबिक महागठबंधन को मिथिलांचल और सीमांचल में अच्‍छी सीटें मिल रही हैं। केवल भोजपुरी भाषी इलाके में महागठबंधन थोड़ा पिछड़ सकता है। इसमें गंगा पार का क्षेत्र शामिल है। इस सर्वे ने मगध क्षेत्र में भी महागठबंधन को ही आगे दिखाया है। सीमांचल की 24 में से 15 सीटें महागठबंधन के खाते में जाती बताई जा रही हैं।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021