पटना, जेएनएन । Bihar Election 2020: महागठंबधन (Grand Alliance) के साझा घोषणा पत्र (common manifesto)  से अलग राजद (RJD) ने अपना खुद का  भी संकल्प पत्र जारी किया और बिहार को बदलने का प्रण लिया। तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) ने आज शनिवार , 24 अक्‍टूबर को राजद का घोषणा पत्र जारी किया है।  16 पृष्ठ के घोषणा पत्र में कई नए वादे किए गए हैं। राजद के सत्ता में आने पर बेरोजगारी भत्ता एक हजार से बढ़ाकर डेढ़ हजार कर दिया जाएगा। वृद्धजन पेंशन में भी वृद्धि की बात कही गई है। अभी चार सौ रुपये मिलते हैं। इसे बढ़ाकर एक हजार रुपये करने का वादा किया गया। डोमिसाइल नीति लागू कर सरकारी नौकरियों में 85 फीसद स्थानीय युवाओं को तरजीह देने की बात भी कही गई।

85 प्रतिशत पद बिहार के युवाओं के लिए आरक्षित

महागठबंधन के मुख्यमंत्री प्रत्याशी तेजस्वी यादव एवं राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने घोषणा पत्र जारी करते हुए पहली कैबिनेट में ही दस लाख नौकरियां देने, आवेदन फीस माफ करने एवं संविदा प्रथा खत्म कर सबको नियमित करने के वादे का फिर उल्लेख किया। इसके अलावा राजद ने पुरानी पेंशन योजना को लागू करने, गांवों को स्मार्ट बनाने एवं नए उद्योग-धंधों को स्थापित करने के लिए टैक्स माफ करने का भी वादा किया। इसके साथ ही सरकारी नौकरी में बिहार के युवाओं को तरजीह देने के लिए राज्य सरकार डोमिसाइल पॉलिसी लाएगी। सरकारी नौकरियों के 85 प्रतिशत पद बिहार के युवाओं के लिए आरक्षित होंगे। इसके अलावा किसानों का कर्ज माफ करने की घोषणा की गई है। तेजस्वी ने इसे घोषणा पत्र नहीं, बल्कि राजद का प्रण बताया। घोषणा पत्र में  बिहार की जनता  से 17 बड़े वादे  किए  गए हैं।

राजद के मुख्य वादे

-पहली कैबिनेट में ही दस लाख नौकरियां देने की प्रक्रिया शुरू। पहला हस्ताक्षर नियुक्तियों की फाइल पर ही।

-सरकारी नौकरियों से संविदा प्रथा खत्म होगी। सभी मुलाजिमों को समान काम के लिए समान वेतन दिया जाएगा।

-विभागों के निजीकरण के प्रयास को तत्काल बंद कर दिया जाएगा।

-किसानों का कर्ज माफ होगा। बिजली बिल आधा होगा। गांवों को भी स्मार्ट बनाएंगे। सीसीटीवी लगाए जाएंगे।

-सभी 38 जिलों में एक-एक मेडिकल कॉलेज बनेंगे। किडनी मरीजों के लिए मुफ्त डायलासिस व्यवस्था होगी।

-जीडीपी का 22 फीसद शिक्षा पर खर्च, किसानों, व्यवसायियों और युवाओं के लिए अलग-अलग आयोग बनेंगे।

-50 साल पार के कर्मचारियों को काम के आधार पर सेवानिवृति देने के आदेश को वापस लिया जाएगा।

-बुजुर्गों और गरीबों की पेंशन राशि 400 रुपये प्रति महीने से बढ़ाकर एक हजार रुपये प्रति महीने किया जाएगा।

-नई उद्योग नीति। प्रभावी टैक्स स्कीम, जिसके तहत निवेशकों को अतिरिक्त छूट दी जाएगी।

-आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, आशा कर्मी एवं जीविका दीदियों की मांगें पूरी की जाएंगी।

-जीविका कैडरों को नियमित वेतनमान पर स्थाई नौकरी, सदस्यों को ब्याज मुक्त कर्ज मिलेगा।

-हर जिले में रोजगार केंद्र खुलेंगे, दो सौ दिनों में योग्यता के अनुरूप रोजगार उपलब्ध होगा।

 भाजपा का पलटवार

 राजद के बदलाव के प्रतिज्ञा पत्र पर बिहार भाजपा अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने  पलटवार किया है। उन्‍होंने कहा है कि तेजस्वी पहले यह वादा करें कि वह चारवाहा विद्यालय नहीं लगाएंगे। वह पहले यह वादा करें कि मुख्यमंत्री आवास से हॉट लाइन पर अपहरणकर्ताओं के लिए फोन नहीं लगेंगे। वादा करें कि रंगदारी नहीं वसूलेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस