पटना, जागरण टीम। बिहार के कैमूर जिले के भभुआ व रोहतास में आयोजित चुनावी सभा में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआइएमआइएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी दो घोड़ों की सवारी कर रहे हैं, एक चिराग व दूसरे नीतीश कुमार। दोनों को लड़ाकर भाजपा की सरकार बनाना चाहते हैं। दरअसल, भाजपा नीतीश कुमार को रिटायर करना चाहती है।

उन्होंने कहा कि राजद 10 लाख लोगों को नौकरी और भाजपा 19 लाख को रोजगार देने की बात कह रही है। बिहार में 15 साल राजद तो करीब 15 साल जदयू व भाजपा ने शासन किया, इन्होंने तब क्यों नहीं नौकरी दी।

ओवैसी ने कहा, देश में लॉकडाउन के दौरान तेलंगना व हैदराबाद में रह रहे बिहारियोंं के घर-घर जाकर राशन व दवा की व्यवस्था मैंने और मेरी पार्टी ने की। उन्हें पैसे का अभाव का अहसास नहीं होने दिया। जबकि नीतीश कुमार ने देश के अन्य हिस्सों मे फंसे कामगारों को बिहार आने से भी रोक दिया था।

उन्होंने कहा, नीतीश सरकार में बिना दो हजार रुपये दिए शौचालय और 20 हजार दिए बिना पीएम आवास का लाभ नहीं मिलता है। बिहार में एक चिकित्सक 28 हजार मरीजों का इलाज करता है। पूछा, विकास क्या और कहां हुआ। स्कूल तो हैं लेकिन शिक्षक नहीं है। उच्च शिक्षा के लिए युवा पलायन कर रहे हैं। स्वास्थ्य व्यवस्था की बदहाली का जिक्र करने के दौरान ओवैसी ने भभुआ से जागरण में छपी खबर में ऑपरेशन के दौरान पेट में बैंडेज छोड़ने की बात का भी जिक्र किया।

बता दें कि बिहार में पहले चरण के चुनाव के लिए 28 अक्टूबर को मतदान होगा। वहीं दूसरे चरण का मतदान 3 नवंबर को और तीसरे चरण का मतदान 7 नवंबर को होगा। इसके साथ ही 10 नवंबर को वोटों की होगी। इसके बाद यह तय होगा कि कौन सी पार्टी के सिर पर चुनाव का ताज सजा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस