पटना, जेएनएन । Bihar Election 2020: सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि उन्हें गोपालगंज में जान से मारने की धमकी दी गई है। उन्होंने यह बात सोमवार, 26 अक्‍टूबर को कैमूर जिले के कुदरा के निशान सिंह स्टेडियम में जनसभा को संबोधित करते हुए कही।  कहा कि जब मैंने गोपालगंज में सुशांत सिंह राजपूत मामले में आवाज उठाई तो मुझे जान से मारने की धमकी दी गई और कहा गया कि मनोज तिवारी तुम सुशांत सिंह के मामले में आवाज मत उठाओ नहीं तो तुमको सभा में गोली मार दी जाएगी। लेकिन मैं कांग्रेस और उनके साथ गठबंधन करके खड़े लोगों को बताना चाहता हूं कि तुम मुझे मार सकते हो लेकिन मैं बिहार के बच्चे के साथ अन्याय होते नहीं देख सकता हूं। धमकी के बाद बिहार पुलिस ने मनोज तिवारी की सुरक्षा बढ़ा दी है।

बता दें क‍ि मनोज तिवारी गोपालगंज में भाजपा प्रत्‍याशी मिथिलेश तिवारी के पक्ष में जन सभा करने 23 अक्‍टूबर को पहुंचे थे। वे पिछले करीब एक सप्‍ताह से बिहार में जमे हुए हैं। वे अपने भोजपुरिया अंदाज में एनडीए के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं। अपनी चुनावी सभाओं के दौरान वे लगातार कांग्रेस पर सुशांत की मौत का मामला छिपाने का आरोप लगा रहे हैं।

महाराष्‍ट्र सरकार ने मजदूरों को पैदल पलायन को मजबूर किया

कैमूर जिले के ही रामगढ़ विधानसभा के राजेंद्र नगर देवहलियां प्लस टू इंटर कॉलेज के मैदान में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए दिल्ली भाजपा सांसद व सीने स्टार मनोज तिवारी ने विरोधियों जमकर निशाना साधा। कोरोना काल के दौरान महाराष्ट्र से बिहारी मजदूरों को कांग्रेस सरकार द्वारा रोटी की व्यवस्था न करा पैदल चल बिहार भागने को मजबूर किया। वहीं सुशांत सिंह राजपूत हत्याकांड के मामले कांग्रेस व राजद ने जांच नहीं होने देने को ले मिलकर अडंगा डाला। वो तो बिहार के मुखिया नीतीश कुमार व प्रधानमंत्री मोदी के हस्तक्षेप से सीबीआई जांच संभव हो सकी। ऐसी पार्टी के लोगों को 28 को वोट से चोट देने की अपील लोगों से की।

कैमूर मे बीते बचपन को याद किया

कैमूर के लाल व सांसद मनोज तिवारी ने विरोधियों पर खूब तंज कसा। कहा कि कभी जिला मुख्यालय देवहलियां आने में सड़क से चार घंटा लगता था। वहीं 45 मिनट में यह दूरी तय की जा रही है। यही है नया बिहार। उन्होंने देवहलियां में हाईस्कूल की परीक्षा के दिन को याद किया। कहा कि हमार एह मिट्टी से बहुत लगाव बा। एह मिट्टी क कर्ज बा। आज हम जो कुछ भी बानी इ मिट्टी क बदौलत बानी। इस दौरान जियो हो बिहार के लाला व मुंडेश्वरी मइया के गीतों से लोगों का भरपूर मनोरंजन किया । कहा कि कैमूर की धरती पर रामगढ़ का अशोक नेता बनकर नहीं बेटा बनकर क्षेत्र की सेवा किया।  देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अगुवाई में नई ऊंचाइयों को छू रहा है। 2022 तक सबके सिर पर पक्का छत होगा। यह सोच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का है।  कहा कि अब वह बिहार नहीं रहा जब लोग शाम ढलते ही अपने घरों में दुबक जाते थे। अब नया बिहार है जो विकास के नित्‍य नये मापदंड को छू रहा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस