जेएनएन, पटना । बिक्रम विधानसभा सीट के लिए चुनावी सरगर्मी तेज हो गई है। किसानों को खेतों की सिंचाई तो युवा उम्मीदों को पंख देने के सपने बुनने लगे हैं। चौक-चौराहों पर भावी प्रत्याशियों की चर्चा के साथ ही मुद्दों की हवा बनने लगी है। भावी प्रत्याशी समर्थक भी अपने-अपने तरीके से जनता को लुभाने में लगे हैं। जनता भी कम नहीं, मौन साधकर पिछले अनुभवों और कार्यों का गुणा-भाग करने में लगी है। इस सीट से पिछले बार कांग्रेस के सिद्धार्थ ने बाजी मारी थी। उन्होंने भाजपा के अनिल को 44311 मत से हराया था। इस बार भाजपा के अतुल कुमार, कांग्रेस के सिद्धार्थ सौरभ और निर्दलीय अनिल कुमार सहित 15 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं।

रुपये बांटते नजर आए कांग्रेस प्रत्‍याशी

बिक्रम विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सिद्धार्थ सौरव के खिलाफ बुधवार को नौबतपुर थाने में मतदाताओं के बीच रुपये बांटने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है। फ्लाइंग स्क्वॉड के दंडाधिकारी जयप्रकाश नारायण राय और दारोगा मिथिलेश सिंह के आवेदन पर मामला दर्ज किया गया है। अधिकारी ने वायरल वीडियो की सत्‍यता जांचने के बाद कार्रवाई की है।

मुद्दा 1 

बिक्रम विधानसभा क्षेत्र कृषि प्रधान है। किसान वर्षों से कृषि सुविधाओं की किल्लत को चुनाव में मुद्दा बनाते रहे हैं। किसानों का कहना है कि सिंचाई के साधनों में किसी प्रकार का विकास नहीं हो रहा है। छोटे-छोटे किसान आॢथक अनुदान सहित उत्पाद की बिक्री और उचित मूल्य मुद्दा बना रहे हैं। पटना सोन कैनाल में खेती के समय पानी नहीं मिलना किसानों की प्रमुख समस्या है। इसके लिए अरवल या फिर वलिदाद लख के पास सोन नदी में डैम बनाने की मांग किसानों द्वारा बार बार की जाती रही है। विधायकों से लेकर मंत्रियों तक से फरियाद कर चुके हैं।

मुद्दा 2

इस चुनाव में बिक्रम को रिंग रोड से नहीं जोडऩे को भी जनता मुद्दा बना रही है। वोटरों का कहना है कि ङ्क्षरग रोड से जुड़ जाने पर युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। इससे और भी कई फायदे होंगे।

मुद्दा 3

बिक्रम में वर्षों से खंडहर में तब्दील डाकबंगले के जीर्णोद्धार को भी चुनावी मुद्दा बनाया जा रहा है। स्थानीय लोगों ने इसके लिए कई बार प्रतिनिधियों के दरवाजे खटखटाए हैं। इस ओर ध्यान नहीं दिया गया।

मुद्दा 4

विक्रम में गांधी आश्रम एवं शहीद स्मारक को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का मुद्दा भी हमेशा उठता रहा है। इससे स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर उपलब्ध हो सकते हैं।

मुद्दा 5

रोजगार के लिए असपुरा बूट फैक्ट्री को चालू करने के लिए भी मुद्दा बनाया जा रहा है। अंग्रजों के जमाने में यहां सैनिकों के बूट बनते थे। अब फैक्ट्री पर ताला पड़ा है। बूट फैक्ट्री फिर से चालू हो गई तो स्थानीय लोगों को रोजगार मिल सकेगा।

एक नजर में विस क्षेत्र

कुल मतदाता : 305899

पुरुष मतदाता : 158375

थर्ड जेंडर : 13

लिंगानुपात : 931.40

बूथ : 466

15 प्रत्याशी बिक्रम से मैदान में

बिक्रम विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के अतुल कुमार, कांग्रेस के सिद्धार्थ सौरभ और निर्दलीय अनिल कुमार सहित 15 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। एक भी प्रत्याशी ने नाम वापस नहीं लिया है। बसपा के अरुण कुमार, जन अधिकार पार्टी के चंद्रशेखर यादव, सत्य बहुमत पार्टी की पूनम देवी, जनता पार्टी के सुनील कुमार, राष्ट्रीय जन जन पार्टी के विकास कुमार, जनता दल राष्ट्रवादी के विश्वनाथ प्रसाद और निर्दलीय अरविंद कुमार, दिलीप कुमार, ममतामयी प्रियदर्शनी, मनोज कुमार, नागेंद्र कुमार और सुरेंद्र यादव भी मैदान में हैं।

वर्ष 2015 विस चुनाव

जीत

कांग्रेस के सिद्धार्थ

प्राप्त वोट 94088

हार

भाजपा के अनिल कुमार

प्राप्त वोट 49777

हार का अंतर 44311

वर्ष 2010 विस चुनाव

जीत

भाजपा के अनिल कुमार

प्राप्त वोट 38965

हार

एलजेपी के सिद्धार्थ

प्राप्त वोट 36613

हार का अंतर 2352

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस