पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Election 1st Phase Voting: बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिए सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। बूथों की आेर पोलिंग पार्टियों को रवाना किया जा रहा है। बुधवार को 71 सीटों पर मतदान होना है। कुल 1066 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें 114 महिला और 952 पुरुष हैं। आठ मंत्रियों की किस्मत का फैसला होना है। सोमवार की शाम प्रचार पर विराम लग गया। 28 अक्टूबर को सुबह आठ बजे से मतदान प्रारंभ हो जाएगा। 28 से धारा 144 भी लागू रहेगी। सभी क्षेत्रों में दिनांक 26 से 28 अक्टूबर के 04:00 बजे अपराह्न तक राजनीतिक प्रकृति के बल्क एसएमएस भेजने पर प्रेषण प्रतिबंध लगाया गया है।

गया में 172 प्रत्याशियों की किस्मत का कल  होगा फैसला, बूथों की ओर निकले मतदान कर्मी

गया जिले के सभी 10 विधानसभा सीटों पर 28 अक्टूबर को मतदान कराया जाएगा। शांतिपूर्ण मतदान के लिए जिले में 4430 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इन सभी बूथों पर सुबह 7 बजे से मतदान का कार्य शुरू होगा। मतदान कराने के लिए मंगलवार को गया जिला मुख्यालय से सभी विधानसभा क्षेत्रों के लिए मतदान दल के कर्मी अपने-अपने बूथों के लिए निकल गए। पीसीसीपी की देखरेख में ईवीएम और वीवीपैट को भेजा गया है। इस बार गया जिले में चुनाव के लिए 200 पैरामिलिट्री फोर्स की कंपनियां तैनात की गई है। इसके साथ ही बुधवार को होने वाले चुनाव में 172 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा। चुनाव को लेकर एक और जहां मतदाताओं में उत्साह है वहीं जिला प्रशासन और सुरक्षा बल भी हर तरह की मुस्तैदी बरत रही है।

कोविड-19 में पहला चुनाव

कोरोना महामारी के दौरान देश में यह पहला आम चुनाव है। इसलिए पूरे देश की निगाहें लगी हैं। पहले चरण में 31 हजार 380 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। दो करोड़ 14 लाख से भी अधिक मतदाता अपने अधिकार का इस्तेमाल करेंगे।

संक्रमण के खतरे को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने रैली, रोड शो और जनसंपर्क पर सख्त दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसको ध्यान में रखते हुए प्रारंभ में सभी राजनीतिक दलों की ओर से चुनाव प्रचार के दौरान अधिकतर सभाएं ऑनलाइन की गईं। हालांकि बाद में आयोग की गाइडलाइन के हिसाब से कुछ सभाएं खुले मैदान में भी होने लगीं। कई जगह से शिकायतें मिलीं कि आयोग के दिशा-निर्देशों का अनुपालन नहीं हो पाया। इसके चलते कई दल के नेता संक्रमित भी हुए। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं डिप्टी सीएम सुशील मोदी, चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडऩवीस, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, सांसद राजीव प्रताप रुडी, राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन शामिल हैं।

चक्रव्यूह में मंत्री

प्रथम चरण में आठ मंत्री मैदान में हैं। गया जिले की इमामगंज सीट पर दो बड़े प्रोफाइल के नेता आमने-सामने हैं। राजद की ओर से पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) प्रमुख जीतन राम मांझी के बीच कांटे का मुकाबला है। इस दौर में जिन आठ मंत्रियों की किस्मत तय होगी, उनमें भाजपा नेता एवं बिहार सरकार के कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार, जदयू नेता एवं शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा भी शामिल हैं। अन्य मंत्रियों में जय कुमार सिंह, विजय कुमार सिन्हा, शैलेश कुमार, संतोष कुमार निराला, रामनारायण मंडल एवं बृजकिशोर बिंद हैं।

भाजपा के बागियों की भी होगी परीक्षा

बिहार में राजग से अलग हटकर चुनाव लड़ रही लोजपा के कई प्रमुख प्रत्याशियों की भी इसी दौर में परीक्षा होनी है। सबसे महत्वपूर्ण सीट दिनारा को माना जा रहा है, जहां से बिहार भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह दल बदलकर लोजपा के सिंबल पर भाग्य आजमा रहे हैं। उनके सामने राज्य सरकार के मंत्री एवं जदयू के वरिष्ठ नेता जयकुमार सिंह हैं। सासाराम से भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय मंत्री रामेश्वर चौरसिया को भी लोजपा ने टिकट थमा दिया है। पालीगंज सीट से लोजपा के टिकट पर लड़ रही पूर्व विधायक एवं भाजपा की पूर्व प्रदेश प्रवक्ता उषा विद्यार्थी को भी खुद को साबित और सत्यापित करना है। सासाराम में चौरसिया का मुकाबला जदयू के अशोक सिंह से है, जबकि पालीगंज में उषा का मुकाबला जदयू के राजदवद्र्धन यादव से है।

रोजगार बना सबसे बड़ा

प्रथम चरण में रोजगार सबसे बड़ा मुद्दा बना। महागठबंधन की ओर से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव एवं रणजीत सिंह सुरजेवाला समेत तमाम नेता अपनी-अपनी सभी जनसभाओं में 10 लाख लोगों को नौकरी देने का वादा करते रहे। तेजस्वी यादव ने वादा किया कि महागठबंधन की सरकार बनते ही पहली कैबिनेट में ही दस लाख लोगों को नौकरी देने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इसके अलावा कृषि ऋण को माफ कर दिया जाएगा। बिजली बिल भी आधी कर दी जाएगी। राजद के जवाब में भाजपा की ओर से 19 लाख नौकरियों का दावा किया गया। चिराग सात निश्चय योजनाओं में भ्रष्टाचार का मुद्दा लगातार उठाते रहे।

375 प्रत्याशी करोड़पति

पहले चरण में 375 प्रत्याशी करोड़पति हैं। यानी प्रत्येक तीसरा प्रत्याशी करोड़पति है। इनमें सबसे ज्यादा 41 में से 39 प्रत्याशी राजद के हैं। अनंत सिंह सबसे अमीर हैं। उनके पास 68 करोड़ से अधिक की संपत्ति है। इसके अलावा बाहुबली नेता एवं मोकामा से राजद प्रत्याशी अनंत सिंह, लोजपा से इस्तीफा देकर तरारी सीट से निर्दलीय लड़ रहे सुनील पांडेय का दम भी इसी चरण में देखा जाएगा।

धारा 144 लागू रहेगी

आम निर्वाचन 2020 (Assembly Polls 2020 ) को शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष ढंग (peaceful and unbiased)  से संपन्न कराने के उद्देश्य से 28 अक्टूबर को पहले चरण वाले चुनाव वाले क्षेत्रों में धारा 144 लागू रहेगी। सुबह 05:00 बजे से संध्या 06:00 बजे तक सभी प्रकार के वाहनों (दोपहिया सहित) का परिचालन एवं आग्नेयास्त्री, विस्फोटक पदार्थो, घातक हथियार लेकर चलने पर रोक रहेगी। यदि किसी वाहन में अथवा व्यक्ति के पास तेजाब अथवा घातक रसायन पाए जाते हैं तो उनके विरूद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।  बता दें कि बिहार में पहले चरण में 16 जिलों के 71 सीट पर 28 अक्‍टूबर को मतदान होना है। दूसरा और तीसरा चरण क्रमश: तीन अोर सात नवंबर को संपन्‍न होंगे। चुनाव परिणाम 10 नवंबर को घोषित किए जाएंगे।

  इनको रहेगी छूट

- निर्वाचन कार्य में लगे वाहन

- मतदाता निजी वाहन से मतदान के लिए जा सकेंगे। लेकिन, निजी वाहन को मतदान केंद्र से दो सौ मीटर पहले रोकना होगा।

- संपूर्ण जिला में मतदान की तिथि 28 अक्टूबर को निजी नौका के परिचालन पर रोक रहेगी। केवल निर्वाचन कार्य और आपातकालीन सेवा से जुड़े नौका का ही परिचालन होगा।

 - आपात सेवाओं जैसे एंबुलेंस, पानी टंकी, विद्युत की संकटकालीन सेवा, मिल्क वाहन, रोगी को अस्पताल ले जाने वाले वाहन के परिचालन की अनुमति होगी

- सार्वजनिक बस, जो निश्चित स्थानों के लिए निश्चित मार्गो पर चलाई जाती है।

- चुनाव कार्य में लगे पुलिस पदाधिकारियों, पुलिस कर्मियों एवं सीपीएफ के उपयोग में आने वाले वाहन एवं उनके आग्नेयास्त्र

 

निर्देशों का उल्लंघन करने वालों पर होगी कार्रवाई

मतदान को स्वच्छ, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए सभी प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई हैं। सभी क्षेत्रों में दिनांक 26 से 28 अक्टूबर के 04:00 बजे अपराह्न तक राजनीतिक प्रकृति के बल्क एसएमएस पर प्रेषण पर प्रतिबंध लगाया गया है। यदि प्रतिबंधित अवधि में किसी भी व्यक्ति द्वारा इसका उल्लंघन किया जाता है, तो उनके विरूद्ध निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। इसके लिए सोशल मीडिया पर पैनी नजर रखी जा रही है।

कहां-कहां होगा चुनाव

कहलगांव, सुल्तानगंज, अमरपुर, धोरैया (एससी), बांका, कटोरिया (एसटी), बेलहर, तारापुर, मुंगेर, जमालपुर, सूर्यगढ़ा, लखीसराय, शेखपुरा, बरबीघा, मोकामा, बाढ़, मसौढ़ी (एससी), पालीगंज, बिक्रम, संदेश, बड़हरा, आरा, अगिआंव (एससी), तरारी, जगदीशपुर, शाहपुर, ब्रह्मपुर, बक्सर, डुमरांव, राजपुर (एससी), रामगढ़, मोहनियां(एससी), भभुआ, चैनपुर, चेनारी(एससी), सासाराम, करगहर, दिनारा, नोखा, डेहरी, काराकट, अरवल, कुर्था, जहानाबाद, घोसी, मखदुमपुर(एससी), गोह, ओबरा, नबीनगर, कुटुम्बा(एससी), औरंगाबाद, रफीगंज, गुरुआ, शेरघाटी, इमामगंज(एससी), बाराचट्टी, बोधगया, गया टाउन, टेकारी, बेलागंज, अतरी, वजीरगंज, रजौली(सुरक्षित), हिसुआ, नवादा, गोविंदपुर, वरसलीगंज, सिकंदरा(एससी), जमुई, झाझा, चकाई।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस