पटना, जेएनएन। बिहार विधानसभा के रण को जीतने के लिए चुनावी सभाएं जोर पर हैं। देश के दिग्गज नेता बिहार में रैलियों को संबोधित कर अपनी-अपनी पार्टियों को वोट देने की अपील कर रहे हैं। औरंगाबाद में मंगलवार को चुनावी सभा को संबोधित करने आरजेडी के वरिष्ठ नेता और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव पहुंचे। इसी बीच भीड़ में एक दिव्यांग युवक ने उनपर चप्पल फेंक दी। चप्पल सीधे उनके हाथ को छूते हुए गोद में जा गिरी। घटना के बाद सभा में हंगामा मच गया। 

ट्राइसाइकिल पर बैठे दिव्यांग ने मंच के नीचे से फेंकी चप्पल

बताया जाता है कि कुटुंबा के बभंडीह में मंगलवार को तेजस्वी यादव चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे थे। इसी दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर मंच के नीचे भीड़ से एक दिव्यांग युवक ने दो चप्पल फेंकी। एक चप्पल उनके पीछे जा गिरी, जबकि दूसरी चप्पल उनके हाथ को छूती हुई गोद में जा गिरी। चप्पल फेंकने के बाद मंच पर कुछ देर के लिए अफरा तफरी मच गई। चप्पल फेंकने वाला दिव्यांग सभा में अपनी ट्राइसाइकिल पर बैठा था। चप्पल फेंकने के बाद वह विरोध में नारेबाजी भी कर रहा था। तेजस्वी ने दिव्यांग को देखकर पार्टी के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को किसी भी तरह का दुर्व्यवहार नहीं करने की अपील की। घटना के बाद तेजस्वी यादव ने दिव्यांग से बात भी की। हालांकि दिव्यांग को पुलिसबलों ने सभा से बाहर निकाल दिया। 

एनडीए के इशारे पर फेंकी गई चप्पल, बढ़ाई जाए सुरक्षा

इधर, तेजस्वी यादव पर चप्पल फेंके जाने की घटना को राजद व कांग्रेस नेताओं ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। इसके साथ ही सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाया। महागठबंधन नेताओं ने कहा कि तेजस्वी यादव पर यह मामला एनडीए नेताओं के इशारे पर हुआ है। कहा कि एनडीए नेताओं की चुनावी सभा की सुरक्षा पुख्ता की जा रही है पर महागठबंधन नेताओं की सभा की सुरक्षा में लापरवाही बरती जा रही है। पूर्व मंत्री सह जिलाध्यक्ष सुरेश मेहता ने इस घटना के पीछे विरोधियों का हाथ होने की बात कही है। 

यह भी देखें: बिहार चुनाव सभा में रैली के दौरान तेजश्वी पर दिव्यांग युवक फेंकी चप्पल

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस