पटना, जेएनएन/ एएनआइ। Bihar Assembly Election 2020: लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के अध्‍यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर बिहार को बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए सात निश्‍चय (Saat Nischay) कार्यक्रम को भ्रष्‍टाचार का अड्डा बताया है। यह भ्रष्‍टाचार किसी अधिकारी ने किया हो या मुख्‍यमंत्री (CM) स्‍वयं किया हो, एलजेपी की सरकार बनते ही इसकी जांच कराई जाएगी। मुख्‍यमंत्री भी दोषी पाए गए तो जेल जाएंगे। चिराग ने यह भी कहा कि जिस तरीके भारतीय जनता पार्टी (BJP) गठबंधन के प्रति ईमानदार है, वैसे ही नीतीश को भी होना चाहिए। इसपर जनता दल यूनाइटेड (JDU) ने पलटवार करते हुए कहा है कि यह तो जनता देखेगी कि कौन जेल जाता है। बीजेपी ने भी उन्‍हें शालीनता का ध्‍यान रखने की नसीहत दी है।

उधर, चिराग ने सीतामढ़ी में माता सीता का मंदिर (Mother Sita Temple) बनवाने का भी वादा किया। उन्‍होंने भारतीय जनता पार्टी (BJP) को लेकर भी बड़ी बात कही।

बोले: सरकार बनी तो कराएंगे सात निश्‍चय घोटाला की जांच

बिहार के बक्‍सर स्थित डुमरांव में जनसभा को संबोधित करते हुए चिराग पासवान ने कहा कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार का सात निश्‍चय कार्यक्रम में भारी घोटाला हुआ है। यह कायक्रम भ्रष्‍टाचार का अड्डा बन गया है। एजेपी की सरकार बनी तो इस भ्रष्‍टाचार की जांच करा दाेषियों को सजा दिलाई जाएगी। यह भ्रष्‍टाचार किसी अधिकारी ने किया हो या खुद मुख्‍यमंत्री ने, कोई दोषी नहीं बचेगा।

मुख्यमंत्री पर ट्वीट के माध्‍यम से फिर साधा निशाना

चिराग ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर ट्वीट के माध्‍यम से भी निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि नीतीश कुमार को बीजेपी के साथियों का शुक्रगुजार होना चाहिए, जिन्‍होंने गठबंधन के लिए ईमानदारी का पूरे पन्ने का विज्ञापन और प्रमाणपत्र दिया है। जिस तरीके बीजेपी गठबंधन के प्रति ईमानदार है, वैसे ही नीतीश को भी होना चाहिए।

जेडीयू ने किया पलटवार, बीजेपी ने दी नसीहत

जेडीयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह नेकहा है कि अब पानी सिर के ऊपर जा रहा है। जो व्‍यक्ति 10 लाख क‍े जूते और घड़ी पहनता है, उसके मुंह से यह बात शोभा नहीं देती है। संजय सिंह ने चेतावनी भरे लहजे में कहा की चिराग मुंह न खुलवाएं, नहीं तो कौन जेल जाएगा यह जनता देखेगी। जेडीयू के अजय आलोक ने कहा कि नीतीश कुमार पहले ही कह चुके हैं कि कोई बच्चा प्रचार के लिए उनेका नाम ले तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन, बच्चे को याद रखना चाहिए कि भगवान श्रीकृष्ण ने भी शिशुपाल की केवल सौ गलतियों को ही माफ किया था। चिराग को लालटेन में जलने का मन है, इसलिए ऐसी बातें कर रहे हैं। चिराग को बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने भी राजनीति में शालीनता का ध्यान रखने की नसीहत दी है।

सीतामढ़ी में माता सीता मंदिर का वादा दुहराया

चिराग पासवान ने सीतामढ़ी में सीमा मंदिर के निर्माण का वादा भी फिर दुहराया है। अपने ट्वीट में उन्‍होंने लिखा है कि सिया बिन राम अधूरे हैं, इसलिए भगवान राम का मंदिर बनने के साथ सीतामढ़ी में माता सीता के मंदिर भव्य मंदिर का निर्माण कराएंगे। माता सीता नारी सशक्‍तीकरण व नारी स्वाभिमान की प्रतीक हैं।

एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि माता सीता के साथ-साथ बिहार में भगवान महावीर, गौतम बुद्ध, गुरु गोविंद सिंह व कई सूफ़ी संतों जैसे महान दिव्य शक्तियों का वास रहा है। इन सब महान स्थानों को विशेष सर्किट से जोड़ा जाएगा। उन्‍होंने लिखा है कि धार्मिक पर्यटन से लोगों की आस्था भी जुड़ी हुई है और इससे बिहार का राजस्व भी बढ़ेगा। इसलिए बिहार फर्स्‍ट बिहारी फर्स्‍ट विज़न डॉक्युमेंट में धार्मिक पर्यटन पर विशेष ज़ोर दिया गया है।

नीतीश पर हमला, बीजेपी के साथ का राग

विदित हो कि चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्‍व को अस्‍वीकार करते हुए अपनी पार्टी को राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन से अलग कर लिया है। बिहार चुनाव के दौरान वे हर दिन नीतीश कुमार पर हमले कर रहे हैं। हालांकि, वे यह भी कह रहे हें कि उनका समर्थन बीजेपी के साथ है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस