पटना, स्‍टेट ब्‍यूरो। Bihar Assembly Election 2020: बिहार में आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की एक्‍चुअल रैलियों (Actual Election Rally) का दूसरा दिन रहा। मुख्‍यमंत्री ने गुरुवार को चकाई, सूर्यगढ़ा, बरबीघा एवं पालीगंज विधानसभा क्षेत्रों में चार चुनावी सभाओं को संबोधित किया। इसके पहले उन्‍होंने बुधवार को भी चार जनसभाएं की थीं। जनसभाओं के दौरान वे 15 साल पहले के लालू-राबड़ी राज पर हमलावर रहे। साथ ही यह भसी कहा कि कुछ लोग उनके खिलाफ बोलकर करते अपना प्रचार करते रहते हैं, जिसकी बातों पर वे ध्‍यान नहीं देते। वे केवल काम करते हैं।

विपक्ष पर हमलावर रहे नीतीश, लालू परिवार पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गुरुवार को फिर विपक्ष पर हमलावर रहे। लालू परिवार का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि मैं बिहार का भला चाहता हूं, जबकि कुछ लोग अपना भला चाहते हैं। सूर्यगढ़ा, बरबीघा, चकाई एवं पालीगंज विधानसभा क्षेत्र में जेडीयू एवं बीजेपी प्रत्याशियों के पक्ष में जनसभाओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं के आग्रह पर मैंने शराबबंदी लागू की। इससे कुछ लोग नाराज रहते हैं। मुझे फिर मौका मिला तो बिहार को सक्षम बिहार के रूप में बनाने की दिशा में काम करेंगे।

मेरी रुचि बिहार की भलाई में, दिन-रात काम करते रहते हैं काम

सूर्यगढ़ा की जनसभा में लखीसराय से बीजेपी प्रत्याशी व श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने चुटीले अंदाज में आरजेडी पर प्रहार करते हुए कहा कि बहुत लोगों की दिलचस्पी अपनी भलाई में है किंतु मेरी रुचि बिहार की भलाई में है। हम दिन-रात काम करते रहते हैं। अगर हमने काम ठीक रास्ते पर किया है तो हमारे उम्मीदवार को अपना समर्थन दीजिए।

जंगलराज को खत्म कर स्थापित किया कानून का राज

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने बिहार में जंगलराज को खत्म किया और कानून का राज स्थापित किया। विकास का काम जिस तरह से शुरू हुआ उसका परिणाम सामने है। आज बिहार प्रगति की राह पर है। लालू-राबड़ी सरकार के 15 वर्षों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि स्थिति हुई कि जब पति अंदर जाने लगे तो पत्नी को बिठा दिया। पति-पत्नी की सरकार ने बिहार के लिए कुछ भी नहीं किया। पुल, पुलिया, सड़क, स्कूल, अस्पताल इन सब पर ध्यान ही नहीं रहा। महिलाओं के कल्याण के लिए भी कुछ नहीं किया।

मौका मिला तो काम किया, आगे भी मौका मिला तो करेंगे और काम

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे जब मौका मिला तो सबके लिए काम किया। आगे भी मौका मिला तो और काम करेंगे।पंचायत चुनाव में महिलाओं को 50 फीसद आरक्षण दिया। देख लीजिए अब कितनी बड़ी संख्या में महिलाएं जन प्रतिनिधि हैं। अनुसूचित जाति व जनजाति तथा अल्पसंख्यकों को मुख्यधारा में जोड़ा। विकास इस तरह हुआ कि बिहार की आमदनी प्रतिवर्ष 12 फीसद की दर से बढ़ रही। प्रति व्यक्ति आय 10.5 फीसद बढ़ रही है। हर घर बिजली, हर घर नल का जल, हर घर शौचालय निर्माण में काफी काम हुआ।

यह भी पढ़ें: LIVE Bihar Election Highlights: आज जेपी नड्डा व CM नीतीश की जनसभाएं, BJP उम्‍मीदवार को बताया पेटू व शराबी

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप