पटना, जेएनएन। Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) को बड़ा झटका लगा है। आरएलएसपी में उनके विश्‍वासपात्र व दाहिना हाथ माने जाने वाले राष्‍ट्रीय महासचिव माधव आनंद (Madhav Anand) ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। माधव आनंद मंगलवार को उपेंद्र कुशवाहा द्वारा बहुजन समाज पार्टी (BSP) से गठबंधन की घोषणा के लिए आयोजित संवाददाता सम्‍मेलन में उपेंद्र कुशवाहा के करीब बैठे थे। इसके बाद रात में वे राबड़ी आवास (Rabri Devi Residence) से निकलते देखे गए, जहां उन्‍होंने राबड़ी देवी  (Rabri Devi) व तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) से मुलाकात की। फिर उन्‍होंने अपने इस्तीफे (Resignation) की घोषणा कर दी। हाल के दिनों में उपेंद्र कुशवाहा को तेजस्‍वी का यह दूसरा बड़ा झटका है। इसके तीन दिन पहले आरएलएसपी के प्रदेश अध्‍यक्ष भूदेव चौधरी भी तेजस्‍वी के साथ चले गए थे।

देर रात राबड़ी-तेजस्‍वी से मिले माधव आनंद

मंगलवार को दिन में कुशवाहा के साथ दिखे माधव आनंद रात में राबड़ी आवास से निकलते देखे गए। इस दौरान वे कैमरे को देख कर छिपते नजर आए। माधव ने कहा कि वे तेजस्वी यादव से निजी मुलाकात करने गए थे, जिसका राजनीति से लेना-देना नहीं है। लेकिन करीब पांच घंटे की इस 'निजी' मुलाकात के अगले दिन ही उन्होंने आरएलएसपी से इस्‍तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि अब वे आरजडी की सदस्‍यता लेंगे और किसी सीट से पार्टी के विधानसभा चुनाव के प्रत्‍याशी भी होंगे।

कुशवाहा को लगातार झटके दे रहे तेजस्‍वी

विदित हो कि आरएलएसपी अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने सीटों के बंटवारे के सवाल पर महागठबंधन छोड़ दिया था। उन्‍होंने तेजस्‍वी की योग्‍यता पर भी सवाल उठाए थे। अब उन्‍होंने बीएसपी के साथ गठबंधन बना लिया है। इस बीच तेजस्वी यादव उन्‍हें लगातार झटके दे रहे हैं। तेजस्‍वी महागठबंधन में उपेंद्र कुशवाहा के रहने के दारान भी कई आरएलएसपी नेताओं को अपने पाले में कर चुके थे, उनके महागठबंधन छोड़ने के बाद पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी को भी आरजेडी में लेने में कामयाब रहे। इसके ठीक तीन दिन बाद अब माधव आनंद ने भी पार्टी छोड़ दी है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस