पटना, जेएनएन। मोकामा विधानसभा सीट बाहुबली विधायक अंनंत सिंह के कारण चर्चा में रहती आई है। इस बार भी मतदान के दौरान मोकामा पर पूरे देश की नजर रही। 2015 के चुनाव में वह निर्दलीय जीते थे। इस बार वह राष्ट्रीय जनता दल के प्रत्याशी हैं। 2005 से 2010 के बीच लगातार तीन चुनावों में जनता दल यूनाइटेड के प्रत्याशी के तौर पर इस सीट से जीत हासिल कर चुके हैं। इस तरह देखा जाए तो उन्होंने लगातार चार बार इस सीट पर फतह हासिल की है। पिछले चुनाव में उन्होंने जदयू के प्रत्याशी नीरज कुमार को मात दी थी। इस बार जदयू से राजीव लोचन किस्मत आजमा रहे हैं। इस सीट से कुल आठ प्रत्याशी इस बार मैदान में हैं।

क्षेत्र का परिचय

मोकामा विधानसभा सीट का क्षेत्र पटना जिले के अंतर्गत आता है। यह जिले के बिल्कुल पश्चिमी छोर पर है। बिहार विधानसभा के अंतर्गत निर्वाचन क्षेत्रों में इसका क्रमांक 178 है। यह क्षेत्र मुंगेर लोकसभा निर्वाचन सीट के अंतर्गत आता है। यानी कि इस क्षेत्र के लोग मुंगेर के सांसद का चुनाव करते हैं। 1951 में हुए पहले चुनाव में यहां कांग्रेस के जगदीश नारायण सिन्हा विधायक बने थे।

प्रमुख प्रत्याशी

1. अनंत कुमार सिंह, राजद

2. राजीव लोचन, जदयू

3. सुरेश सिंह निषाद, लोजपा

प्रमुख मुद्दे

1. शिक्षा: उच्च शिक्षा के लिए मात्र एक अंगीभूत कॉलेज है। इसमें भी पीजी की पढ़ाई नहीं होती।

2. चिकित्सा: क्षेत्र के सरकारी अस्पतालों में प्राथमिक उपचार की भी सही व्यवस्था नहीं है।

3. खेती: टाल के किसान सालभर में केवल एक ही फसल उपजा पाते हैं।

4. पेयजल: शुद्ध और पर्याप्त पेयजल की उपलब्धता स्थानीय मतदाताओं के लिए बड़ा मुद्दा है।

5. जलजमाव: मोकामा नगर परिषद क्षेत्र के कई इलाकों में जलजमाव क समस्या लगातार बनी रहती है।

प्रमुख तथ्य

कुल मतदाता: 2,70,755

पुरुष मतदाता: 1,42,425

महिला मतदाता: 1,28,327

थर्ड जेंडर: 3

लिंगानुपात: 901.01

वर्ष- कौन जीता - कौन हारा

2015- अनंत कुमार सिंह, निर्दलीय- नीरज कुमार, जदयू

2010- अनंत कुमार सिंह, जदयू- सोनम देवी, एलजेपी

2005 नवंबर- अनंत कुमार सिंह, जदयू- न‍लिनी रंजन शर्मा, एलजेपी

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस