गुवाहाटी, प्रेट्र। पूर्वोत्तर लोकतांत्रिक गठबंधन (एनईडीए) के संयोजक और असम के वित्त मंत्री हिमंता बिस्व सरमा के पास 25,000 रुपये नकद और बैंक में 50 लाख रुपये से अधिक जमा हैं। इसके अलावा उनके पास कोई बांड, शेयर या बीमा पालिसी नहीं है। असम की जालुकबारी सीट से प्रत्याशी के रूप में दाखिल किए गए अपने हलफनामे में सरमा ने घोषित किया है कि उनके पास कोई अचल संपत्ति या कार नहीं हैं, लेकिन 1.72 करोड़ रुपये की संपत्ति है जो 2016 में 1.02 करोड़ रुपये की थी। संपत्ति के लिहाज से उनकी पत्नी उनसे ज्यादा अमीर हैं।

वह इस सीट से लगातार पांचवीं बार चुनाव लड़ रहे हैं। पिछले पांच वर्षो में उनके परिवार की आय 10 करोड़ रुपये से अधिक बढ़ी है। सिर्फ उनकी पत्नी की ही संपत्ति में नौ करोड़ रुपये से अधिक की वृद्धि हुई है।

मंत्री के दो बच्चों समेत चार सदस्यों वाले परिवार की सामूहिक संपत्ति बढ़कर 17.27 करोड़ रुपये हो गई है। भाजपा नेता के बेटे को उनपर निर्भर बताया गया है और उसके पास 55.71 लाख रुपये मूल्य की संपत्ति है जबकि उनकी बेटी के पास 2016 में कुछ नहीं था, लेकिन अब 52 लाख रुपये की अचल संपत्ति है।

उनकी पत्नी रिनिकी भुइयां सरमा के पास चल और अचल मिलाकर कुल 14.47 करोड़ रुपये की संपत्ति है। वर्ष 2016 में उनकी संपत्ति का मूल्य 5.27 करोड़ रुपये था। मंत्री के पास 180 ग्राम सोना है जिसकी कीमत 7.74 लाख रुपये है जबकि उनकी पत्नी रिनिकी के पास 1459.21 ग्राम सोना है जिसका मूल्य 60 लाख रुपये है।

गौरतलब है कि असम में 126 सीटों के लिए विधानसभा चुनाव 27 मार्च से शुरू होने जा रहे हैं। यह चुनाव तीन चरणों में होंगे। प्रथम चरण में उतरने वाले प्रत्याशियों में से 16 फीसद के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। असम चुनाव निगरानी समूह और एडीआर ने पहले चरण में चुनावी मैदान में उतरे 264 में से 259 उम्मीदवारों के हलफनामों का विश्लेषण किया।

Edited By: Neel Rajput