गुवाहाटी, पीटीआइ। असम में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सत्तारूढ़ भाजपा के दो विधायकों ने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। दोनों निवर्तमान विधायकों का भाजपा ने टिकट काट दिया था, उससे वे नाराज थे। जिन दो निवर्तमान विधायकों ने इस्तीफा दिया है उनमें से एक पूर्व डिप्टी स्पीकर दिलीप कुमार पॉल हैं और दूसरे विवादास्पद रहे शिलादित्य देव हैं। दोनों ने अलग-अलग प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा में अपने खिलाफ साजिश होने का आरोप लगाया। 

रविवार को भाजपा नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री रहे सुम रोंगांग ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की थी। भाजपा ने दिफू सीट से उनका टिकट काट दिया था। निवर्तमान विधायक पॉल ने बताया कि उन्होंने अपना त्यागपत्र भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय नेताओं को भेज दिया है। यह कठिन फैसला उन्होंने भारी मन से लिया है। पॉल ने मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल को अच्छा व्यक्ति बताया। साथ ही यह भी कहा कि वह असहाय हैं। पॉल 1983 से भाजपा में थे। इसी तरह देव ने पार्टी में अपने खिलाफ चार साल से साजिश होने का आरोप लगाया, जिसकी परिणति उनकी टिकट काटे जाने से हुई।

सोनोवाल की संपत्ति में 71 फीसद का इजाफा

असम में मुख्यमंत्री सोनोवाल की संपत्ति में बीते पांच साल में 71 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। इस संपत्ति में चल और अचल संपत्ति शामिल है। संपत्ति की यह तुलना 2016 में और 2021 में सार्वजनिक की गई जानकारियों के आधार पर की गई है। माजुली सीट के लिए नामजदगी का पर्चा दाखिल करते समय सोनोवाल ने संपत्ति संबंधी जो जानकारी दी है, उसके अनुसार उनके पास 3.17 करोड़ की संपत्ति है। जबकि 2016 में उनके पास 1.85 करोड़ रुपये की संपत्ति थी। पांच साल से मुख्यमंत्री और उससे पहले केंद्रीय मंत्री सोनोवाल के पास हर तरह की संपत्ति है लेकिन अपना वाहन नहीं है।

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति ने बुधवार को असम विधानसभा चुनाव व पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव लिए उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है। विस्तृत विचार-विमर्श के बाद इन उम्मीदवारों के नाम को मंजूरी दी गई है। असम के लिए पार्टी ने तीन उम्मीदवारों व पश्चिम बंगाल के लिए दो उम्मीदवारोंं के नामों की घोषणा की है।

असम में पहले चरण के लिए 281 प्रत्याशियों ने किया नामांकन

असम विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए कुल 281 प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किया है। पहले चरण में 47 सीटों पर 27 मार्च को मतदान कराए जाएंगे। मुख्य चुनाव अधिकारी के कार्यालय ने बुधवार को यह जानकारी दी। इन सीटों के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की समयसीमा मंगलवार तक ही थी।पहले चरण के चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने वालों में माजुली से मुख्यमंत्री सरबानंद सोनोवाल, बाताद्रोबा से भाजपा विधायक अंगूरलता डेका, कुमताइ से मृणाल सैकिया, गोहपुर से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा, नाजिरा से कांग्रेस विधायक दल के नेता देबब्रत सैकिया और बिहपुरिया से एआइसीसी सचिव भूपेन बोरा एवं अन्य शामिल हैं।

Edited By: Neel Rajput